in

निगम की टीम ने अवैध खनन करने से रोका तो की अभद्रता


ख़बर सुनें

रोहतक। सुनारिया रोड स्थित नगर निगम की जमीन पर बने मिट्टी के टीलों से माफियाओं ने 200 से ज्यादा डंपर का खनन कर लिया। बुधवार को मौके पर पहुंची निगम की टीम ने रोका तो खनन माफियाओं ने अभद्रता कर डाली। सूचना मिलने पर निगम के तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तो चालक वाहनों को लेकर भाग निकले। इस मामले की लिखित शिकायत शिवाजी नगर थाना पुलिस से की गई है।
नगर निगम के तहसीलदार शिव कुमार ने बताया कि सुनारिया रोड पर नगर निगम की जमीन है, जिस पर बड़े-बड़े मिट्टी के टीले बने हुए हैं। इन टीलों से बड़े स्तर पर माफिया खनन कर रहे थे, जिसकी सूचना मिलने पर निगम की टीम मौके पर पहुंची। यहां कुछ लोग जेसीबी से खुदाई करके मिट्टी डंपर आदि वाहनों में भर रहे थे। जब टीम ने उन्हें खनन करने से रोका तो उन्होंने अभद्रता कर डाली। माहौल की नजाकत भांपकर टीम मौके से हटकर थोड़ी दूरी पर चली गई और फिर उच्चाधिकारियों को सूचना दी। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर तहसीलदार शिवाजी नगर थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। इसकी भनक लगते ही खनन करने वाले वाहनों को लेकर भाग गए। लेकिन वहां पहले से मौजूद निगम की टीम ने खनन करने वाले वाहनों की वीडियोग्राफी की। इसके बाद तहसीलदार पुलिस के साथ थाने पर पहुंचे, जहां पूरे मामले की लिखित शिकायत करते हुए वीडियोग्राफी और फोटो साक्ष्य के रूप में उपलब्ध कराए।
तहसीलदार शिव कुमार ने बताया कि निगम की जमीन से माफियाओं ने 200 से ज्यादा डंपर मिट्टी का खनन कर लिया है। मिट्टी के टीले पूरी तरह से खत्म करके समतल मैदान कर दिया है। इस मामले की पुलिस से शिकायत कर दी गई है। वहीं, निगम आयुक्त डॉ. नरहरि बांगड़ ने बताया कि निगम की जमीन से खनन माफियाओं ने बड़े स्तर पर मिट्टी का खनन किया है, जिसको लेकर कानूनी कार्रवाई के आदेश कर दिए हैं। खनन में शामिल कई वाहनों के फोटो मय नंबर पुलिस को उपलब्ध करवा दिए हैं।

रोहतक। सुनारिया रोड स्थित नगर निगम की जमीन पर बने मिट्टी के टीलों से माफियाओं ने 200 से ज्यादा डंपर का खनन कर लिया। बुधवार को मौके पर पहुंची निगम की टीम ने रोका तो खनन माफियाओं ने अभद्रता कर डाली। सूचना मिलने पर निगम के तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तो चालक वाहनों को लेकर भाग निकले। इस मामले की लिखित शिकायत शिवाजी नगर थाना पुलिस से की गई है।

नगर निगम के तहसीलदार शिव कुमार ने बताया कि सुनारिया रोड पर नगर निगम की जमीन है, जिस पर बड़े-बड़े मिट्टी के टीले बने हुए हैं। इन टीलों से बड़े स्तर पर माफिया खनन कर रहे थे, जिसकी सूचना मिलने पर निगम की टीम मौके पर पहुंची। यहां कुछ लोग जेसीबी से खुदाई करके मिट्टी डंपर आदि वाहनों में भर रहे थे। जब टीम ने उन्हें खनन करने से रोका तो उन्होंने अभद्रता कर डाली। माहौल की नजाकत भांपकर टीम मौके से हटकर थोड़ी दूरी पर चली गई और फिर उच्चाधिकारियों को सूचना दी। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर तहसीलदार शिवाजी नगर थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। इसकी भनक लगते ही खनन करने वाले वाहनों को लेकर भाग गए। लेकिन वहां पहले से मौजूद निगम की टीम ने खनन करने वाले वाहनों की वीडियोग्राफी की। इसके बाद तहसीलदार पुलिस के साथ थाने पर पहुंचे, जहां पूरे मामले की लिखित शिकायत करते हुए वीडियोग्राफी और फोटो साक्ष्य के रूप में उपलब्ध कराए।

तहसीलदार शिव कुमार ने बताया कि निगम की जमीन से माफियाओं ने 200 से ज्यादा डंपर मिट्टी का खनन कर लिया है। मिट्टी के टीले पूरी तरह से खत्म करके समतल मैदान कर दिया है। इस मामले की पुलिस से शिकायत कर दी गई है। वहीं, निगम आयुक्त डॉ. नरहरि बांगड़ ने बताया कि निगम की जमीन से खनन माफियाओं ने बड़े स्तर पर मिट्टी का खनन किया है, जिसको लेकर कानूनी कार्रवाई के आदेश कर दिए हैं। खनन में शामिल कई वाहनों के फोटो मय नंबर पुलिस को उपलब्ध करवा दिए हैं।

.


25 जरूरतमंद बच्चों को पाठ्यसामग्री और कपड़े वितरित

40 किलो पिसा हुआ नशीला पदार्थ बरामद