in

नाले के लिए पंचायती जमीन पर गड्ढा खुदवाया, जलभराव से मिलेगी निजात


ख़बर सुनें

जुलाना: देवरड़ गांव में बरसाती पानी की निकासी व्यवस्था के लिए बुधवार को प्रशानिक अमला पहुंचा और ड्यूटी मजिस्ट्रेट प्रतीक कुमार की देखरेख में शांतिपूर्वक कार्य हुआ। देवरड़ गांव में निकासी व्यवस्था न होने की शिकायत कई बार ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों से भी की। गांव में निकासी व्यवस्था नहीं होने से सड़क पर जलभराव हो जाता था। जिससे सड़क में बड़े बड़े गड्ढे बने हुए थे। प्रशासनिक अधिकारियों ने निकासी व्यवस्था के लिए नाले तो बनवा दिए थे, लेकिन पानी एकत्रित करने के लिए गड्ढा नहीं होने के कारण ग्रामीणों को काफी परेशानियों से होकर गुजरना पड़ रहा था। जहां पर गड्ढा खोदा जाना था वहां पर कुछ लोगों ने अवैध कब्जे किए हुए थे। बुधवार को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रेणूका नांदल, नायब तहसीलदार व डयूटी मजिस्ट्रेट प्रतीक कुमार गांव में पहुंचे और ग्रामीणों को समझाकर नाले के लिए पंचायती जमीन पर गड्ढा खुदवाया।
वर्जन
देवरड़ गांव में निकासी व्यवस्था नही होने के कारण कई बार ग्रामीणों ने शिकायत दी। निकासी व्यवस्था के लिए गड्ढा खोदा गया है। अब निकासी व्यवस्था दुरुस्त होगी। गलियों और सड़कों पर पानी जमा नहीं होगा।
-रेणूका नांदल, बीडीपीओ जुलाना।

जुलाना: देवरड़ गांव में बरसाती पानी की निकासी व्यवस्था के लिए बुधवार को प्रशानिक अमला पहुंचा और ड्यूटी मजिस्ट्रेट प्रतीक कुमार की देखरेख में शांतिपूर्वक कार्य हुआ। देवरड़ गांव में निकासी व्यवस्था न होने की शिकायत कई बार ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों से भी की। गांव में निकासी व्यवस्था नहीं होने से सड़क पर जलभराव हो जाता था। जिससे सड़क में बड़े बड़े गड्ढे बने हुए थे। प्रशासनिक अधिकारियों ने निकासी व्यवस्था के लिए नाले तो बनवा दिए थे, लेकिन पानी एकत्रित करने के लिए गड्ढा नहीं होने के कारण ग्रामीणों को काफी परेशानियों से होकर गुजरना पड़ रहा था। जहां पर गड्ढा खोदा जाना था वहां पर कुछ लोगों ने अवैध कब्जे किए हुए थे। बुधवार को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रेणूका नांदल, नायब तहसीलदार व डयूटी मजिस्ट्रेट प्रतीक कुमार गांव में पहुंचे और ग्रामीणों को समझाकर नाले के लिए पंचायती जमीन पर गड्ढा खुदवाया।

वर्जन

देवरड़ गांव में निकासी व्यवस्था नही होने के कारण कई बार ग्रामीणों ने शिकायत दी। निकासी व्यवस्था के लिए गड्ढा खोदा गया है। अब निकासी व्यवस्था दुरुस्त होगी। गलियों और सड़कों पर पानी जमा नहीं होगा।

-रेणूका नांदल, बीडीपीओ जुलाना।

.


बसें ही नहीं, ड्राइवर-कंडक्टर की कमी से भी जूझ रहा जिले का रोडवेज डिपो

Punjab News : फरीदकोट का डीएसपी नशा तस्कर से 10 लाख रुपये की रिश्वत लेने में गिरफ्तार, डीआईजी को भी हिरासत में लिया