in

धर्मगुरु पर दुष्कर्म का केस: पीड़िता बोली- सत्संग के बहाने बुलाया, रात को पिलाया दूध, पीते ही आ गई नींद, फिर…


संवाद न्यूज एजेंसी, राई, सोनीपत (हरियाणा)
Published by: भूपेंद्र सिंह
Updated Tue, 07 Jun 2022 11:09 PM IST

ख़बर सुनें

पंजाब की महिला को सत्संग करने के बहाने हरियाणा के सोनीपत जिले के कुंडली थाना क्षेत्र में लेकर आने के बाद दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। मामला आठ साल पहले का है। महिला ने अब पुलिस को शिकायत देकर आरोपी धर्मगुरु के खिलाफ केस दर्ज कराया है।  

पंजाब की महिला का आरोप है कि उनके परिवार की पंजाब में एक धर्मगुरु से काफी नजदीकी थी। वे उन्हें पिता की तरह मानते थे। पीड़िता ने बताया कि वर्ष 2014 में उसे सत्संग के बहाने धर्मगुरु कुंडली स्थित बिल्डर के फ्लैट मे लेकर आया था, जहां पर उसके साथ एक और महिला थी। फ्लैट में शाम तक सत्संग हुआ था, जिसमें सोनीपत से भी साधक आए हुए थे।

जब सत्संग समाप्त हो गया तो उसे बोला गया कि वह अब इंदौर सत्संग के लिए जाएंगे। शाम को खाना खाने के बाद उसे दूध पिलाया गया। दूध पीने के बाद उसे नींद आ गई। जब उसकी रात को आंख खुली तो धर्मगुरु उसके कमरे में उसके साथ गलत काम कर रहे थे। एक महिला उनका वीडियो बना रही थी। बाद में उसके सोने के गहने छीन लिए गए थे।

जब उसने इसका विरोध किया तो उसे जान से मारने व वीडियो वायरल करने की धमकी दी गई, जिससे वह डर गई। बाद में उसे इंदौर सत्संग में ले जाया गया। उसके बाद वह मानसिक रूप से परेशान रहने लगी। अब उसे पता चला कि धर्मगुरु ने कई और महिलाओं के साथ ऐसा घिनौना काम किया है तो उसे भी हिम्मत आई। उसने कुंडली थाना में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने पीड़िता के बयान पर गुरु व एक महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

विस्तार

पंजाब की महिला को सत्संग करने के बहाने हरियाणा के सोनीपत जिले के कुंडली थाना क्षेत्र में लेकर आने के बाद दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। मामला आठ साल पहले का है। महिला ने अब पुलिस को शिकायत देकर आरोपी धर्मगुरु के खिलाफ केस दर्ज कराया है।  

पंजाब की महिला का आरोप है कि उनके परिवार की पंजाब में एक धर्मगुरु से काफी नजदीकी थी। वे उन्हें पिता की तरह मानते थे। पीड़िता ने बताया कि वर्ष 2014 में उसे सत्संग के बहाने धर्मगुरु कुंडली स्थित बिल्डर के फ्लैट मे लेकर आया था, जहां पर उसके साथ एक और महिला थी। फ्लैट में शाम तक सत्संग हुआ था, जिसमें सोनीपत से भी साधक आए हुए थे।

जब सत्संग समाप्त हो गया तो उसे बोला गया कि वह अब इंदौर सत्संग के लिए जाएंगे। शाम को खाना खाने के बाद उसे दूध पिलाया गया। दूध पीने के बाद उसे नींद आ गई। जब उसकी रात को आंख खुली तो धर्मगुरु उसके कमरे में उसके साथ गलत काम कर रहे थे। एक महिला उनका वीडियो बना रही थी। बाद में उसके सोने के गहने छीन लिए गए थे।

जब उसने इसका विरोध किया तो उसे जान से मारने व वीडियो वायरल करने की धमकी दी गई, जिससे वह डर गई। बाद में उसे इंदौर सत्संग में ले जाया गया। उसके बाद वह मानसिक रूप से परेशान रहने लगी। अब उसे पता चला कि धर्मगुरु ने कई और महिलाओं के साथ ऐसा घिनौना काम किया है तो उसे भी हिम्मत आई। उसने कुंडली थाना में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने पीड़िता के बयान पर गुरु व एक महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

.


जोहड़ों का किया जीर्णोद्धार, अब हरियाली की बारी

शस्त्र लाइसेंस घोटाले के मास्टर माइंड को साथी ने गोलियों से भूना