in

देशभक्ति के मुद्दे पर अब कांग्रेस भी आगे , तिरंगे के सहारे जनता दोनों पार्टियां जनता के बीच पैठ बनाने में जुटी


जयपुर: देश की आजादी को 75 वर्ष पूरे होने पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। देशभर में मनाए जा रहे इस महोत्सव में सभी संगठन बढचढ कर हिस्सा ले रहे हैं। स्कूली छात्रों से लेकर आर्मी अफसर और सभी सामाजिक संगठन इस महोत्सव का हिस्सा बने हैं। देशभक्ति से लबरेज कार्यक्रमों के साथ तिरंगा यात्राएं निकाली जा रही है और देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहूति देने वाले वीर शहीदों को नमन किया जा रहा है। इसी के साथ भाजपा और कांग्रेस की तरफ से अलग अलग कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है। कांग्रेस ने अप्रेल 2022 में आजादी की गौरव यात्रा शुरू की थी। बाद में भाजपा ने हर घर तिरंगा अभियान के साथ तिरंगा यात्राएं निकालना शुरू कर दिया। दोनों ही दल तिरंगे के सहारे पार्टी की एकजुटता दिखाने का प्रयास करने लगे हैं।

सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी शामिल हुए गौरव यात्रा में
2 अप्रेल 2022 को कांग्रेस सेवादल की ओर से आजादी की गौरव यात्रा का शुभारंभ किया गया। अहमदाबाद (गुजरात) के गांधीधाम आश्रम से इसका आगाज किया गया। इसके तहत सेवादल के कार्यकर्ता तिरंगा हाथ में लेकर दिल्ली की ओर पैदल रवाना हुए। राजस्थान और हरियाणा होते हुए 1 जून 2022 को दिल्ली के राजघाट पहुंचे। राजघाट पर

राजस्थान में IAS अधिकारियों के नाम से ठगी का सिलसिला जारी, टीना डाबी के बाद अब अफसरों के नाम पर फ्रॉड की कोशिश

गौरव यात्रा के समापन समारोह के दौरान कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित पार्टी के तमाम दिग्गज नेता मौजूद रहे। करीब 1200 किलोमीटर की इस यात्रा को 58 दिन में पूरा किया गया। सेवादल की ओर से निकाली गई इस गौरव यात्रा के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने देश के सभी राज्यों में यात्राएं निकालने का निर्णय किया।

देश के सभी राज्यों में कांग्रेस निकाल रही आजादी की गौरव यात्रा
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर देश के सभी राज्यों में कांग्रेस की ओर से आजादी की गौरव यात्राएं निकाली जा रही है। प्रदेश स्तर पर निकाली जाने वाली यात्राओं में मुख्यमंत्री, पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष, विधायक, मंत्री, सांसद और संगठन के पदाधिकारी शामिल हो रहे हैं। ब्लॉक और वार्ड स्तर पर भी निकाली जा रही यात्राओं में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ आमजन को जोड़ा जा रहा है। इस आजादी की गौरव यात्रा के तहत पार्टी अपनी मजबूती और एकजुटता पेश कर रही है।

बीजेपी ने शुरू किया घर घर तिरंगा अभियान और तिरंगा यात्राएं
कांग्रेस की ओर से निकाली जा रही आजादी की गौरव यात्रा को देशभर में अच्छा रेस्पोंस मिला। लोग बड़े उत्साह से इस यात्रा के साथ जुड़ने लगे। बाद में भाजपा की ओर देशभक्ति के नाम पर लोगों को जोड़ने और पार्टी की एकजुटता दिखाने के लिए आजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर घर तिरंगा अभियान का ऐलान किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम में भी इसका आह्वान किया गया। देशभर में जिला और ब्लॉक स्तर पर तिरंगा यात्राएं निकाली जाने लगी। विधायक, मंत्री और सांसद इन तिरंगा यात्राओं में शामिल हो रहे हैं।

चारों तरफ से घिरने वाले हैं MLA पूराराम , विवाद बढ़ने के बाद BJP ने भी बनाई संत रविनाथ मामले में जांच कमेटी

पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ आमजन भी इन तिरंगा यात्राओं में शामिल हो रहे हैं। घर घर तिरंगा अभियान को भी देश के लोगों ने बड़े हर्ष के साथ स्वीकार किया है। देशभक्ति की भावना के साथ लोग अपने अपने घरों और प्रतिष्ठानों पर तिरंगे फहरा रहे हैं।

देशभक्ति गीत गाकर अब राजस्थान बनाएगा वर्ल्ड रिकॉर्ड
राजस्थान सरकार की ओर आजादी के अमृत महोत्सव के तहत एक अनूठा रिकॉर्ड बनाया जा रहा है। प्रदेश के सभी 66 हजार सरकारी और 50 हजार गैर सरकारी स्कूलों के कक्षा 9 से 12वीं के विद्यार्थी 12 अगस्त को एक साथ देशभक्ति गीत गाएंगे। सरकार का दावा है कि प्रदेश की करीब एक लाख स्कूलों के एक करोड़ स्टूडेंट्स एक साथ देशभक्ति गीतों का गायन करेंगे। इसके लिए प्रशासन द्वारा तमाम इंतजाम पूरे कर लिए गए हैं। सभी जिलों में जहां हर साल गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस मनाए जाने वाले मैदानों में एकत्रित होकर छात्रा छात्राएं देशभक्ति गीत गाएंगे।

जयपुर में सवाई मानसिंह स्टेडियम में राज्य स्तरीय कार्यक्रम होगा जिसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल होंगे। इस दौरान वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे।

राजस्थान: लिफाफे में राखी के साथ भेजा जिंदा कारतूस, पत्र में लिखा-दिमाग में कीड़ा है तो निकाल देना

अन्य दलों के बड़े कार्यक्रम नजर नहीं आये
आजादी के अमृत महोत्सव से देश की सभी लोग जुड़े हुए हैं लेकिन भाजपा और कांग्रेस की तरफ से अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसके बावजूद भी अन्य राजनीतिक दलों के कार्यक्रम नजर नहीं आ रहे हैं। राजस्थान की बात करें तो बीजेपी और कांग्रेस के अलावा अन्य पार्टियों बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल, आम आदमी पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय ट्राइबल पार्टी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी की ओर से पार्टी स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया गया।
(रिपोर्ट :- रामस्वरूप लामरोड़)

.


विराट कोहली Asia Cup की तैयारियों में जुटे, सोशल मीडिया पर ट्रेनिंग का VIDEO वायरल

लंपी वायरस के बढ़ते कहर ने राजस्थान सरकार ने लिया बड़ा फैसला , पशु मेलों के आयोजन पर लगा प्रतिबंध