in

दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेस वे पर दौसा तक 90 फीसदी काम पूरा, अगले महीने से शुरु होने की उम्मीद


गुरुग्राम: दिल्ली से गुड़गांव के रास्ते राजस्थान के दौसा आने-जाने वालों को जल्द ही राहत मिलने वाली है। गुड़गांव के अलीपुर से राजस्थान में दौसा तक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य 90 फीसदी से ज्यादा पूरा हो चुका है। इस एक्सप्रेसवे को अगस्त में में शुरू किए जाने की तैयारी चल रही है। फिलहाल एनएचएआई की ओर से कोई तारीख तय नहीं की गई है। हालांकि 11 जुलाई को केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी सोहना हाइवे का उद्घाटन करने के दौरान दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे को खोले जाने की तारीख की घोषणा कर सकते हैं।

यह एक्सप्रेस-वे 1380 किलोमीटर लंबा होगा। निर्माण कार्य बेहतर तरीके से हो सके इसलिए इस प्रोजेक्ट को हिस्सों में बांटा गया है। जिसमें एक हिस्सा अलीपुर से दौसा तक है। अलीपुर में दौसा के बीच 90 फीसदी से ज्यादा काम पूरा कर लिया गया है। अब फिनिशिंग का काम चल रहा है। दिल्ली व गुड़गांव से जाने वाले लोग इस एक्सप्रेस वे पर गुड़गांव सोहना हाइवे से होकर जा सकेंगे। इसके लिए अलीपुर में इंटरचेंज बनाया गया है।

कैमरे लगाने का काम हुआ शुरू: मुंबई एक्सप्रेसवे कैमरों की जद में होगा। बताया गया कि एक किलोमीटर के अंतराल पर कैमरे लगाए जाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। कैमरे की रेंज करीब 500 मीटर होगी। इन कैमरों की मदद से एक्सप्रेस वे पर हो रही हर गतिविधि पर नजर रखी जा सकेगी। सभी जंक्शन पर तीन से चार कैमरे लगाए जाएंगे। कैमरों के माध्यम से नजर रखने के लिए जगह जगह कंट्रोल रूम बनाए जाएंगे।

समय की होगी बचत

यह दौसा जिले के भांडरोज व लालसोट एरिया को कनेक्ट करेगा और यह एक्सप्रेस वे सिग्नल फ्री होगा, जिसके चलते लोगों को नहीं रुकना पड़ेगा और वाहन 100 से 120 की स्पीड पर फर्राटा भर सकेंगे। दिल्ली से दौसा की दूरी करीब 214 किलोमीटर है। इसके बनने से यह दूरी करीब ढाई घंटे में तय की जा सकेगी। वहीं फिरोजपुर झिरका से अलवर की दूरी करीब 73 किलाेमीटर है। फिलहाल इस दूरी को तय करने में लोगोंं को डेढ़ घंटे से ज्यादा का समय लगता है, जबकि एक्सप्रेस वे के शुरूहोने पर 40 से 45 मिनट में यह दूरी तय हो सकेगी।

4 माह बाद मिलेगी सुविधाएं
अगस्त में गुड़गांव से दौसा तक आठ लेन एक्सप्रेस वे को चालू करने की तैयारी चल रही है। किस तरह से ट्रैफिक को इस पर निकाला जाएगा और सुरक्षा के साथ अन्य इंतजामों को लेकर तैयारी चल रही है। बताया जा रहा है कि इसके शुरु होने के चार माह बाद सफर करने वाले लोगोें को इस मार्ग पर रेस्तंरा, पेट्रोल पंप, रेस्ट हाउस आदि की सुविधा मिलना शुरूहोगी।

दौसा होने जयपुर जाना होगा आसान
दौसा से जयपुर की दूरी करीब 58 किलाेमीटर है। दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेस वे पर दौसा होते हुए जयपुर जाना भी आसान हो जाएगा। इस एक्सप्रेस-वे को जयपुर से जोड़ने के लिए छह लेन लिंक रोड बनाया जाना है। रोड बनने के बाद एक्सप्रेस-वे जयपुर से जुड़ जाएगा। छह लेन की रोड 66 किमी लंबी रहेगी। यह रोड द्वारापुरा गांव के पास एक्सप्रेस- वे से जयपुर में आगरा रोड स्थित रिंग रोड तक बनेगी।वर्जन

एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर मुदित गर्ग ने कहा कि दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे पर दौसा तक करीब 90 फीसदी काम पूरा कर लिया गया है। इसके शुरू किए जाने को लेकर काेई तारीख अभी तय नहीं है। अगस्त में शुरू हो सकता है। कैमरे लगाए जाने का काम शुरू हो चुका है।

.


एचएयू के बीड प्रोडक्ट वर्कस्टेशन को मिला डिजाइन अधिकार

मोहनलाल हत्याकांड : गिरफ्तार स्कूल संचालक का बेटा तीन दिन रिमांड पर