दिल्ली की सभी ट्रेन रद्द होने के बाद परेशान हुए यात्री


ख़बर सुनें

पानीपत। अग्निपथ योजना के विरोध को देखते हुए सोमवार को दिल्ली जाने वाली ट्रेनें रद रहीं। इससे यात्रियों को भारी परेशानी हुई। सोमवार को अग्निपथ योजना के विरोध में देश बंद का आह्वान करने के बाद 19 जून रात को दिल्ली जाने वाली लगभग सभी ट्रेनों को रद कर दिया गया। यात्रियों को जानकारी न होने के कारण वे रोजाना की तरह स्टेशन पहुंचे। वहां पता चला कि दिल्ली जाने वाली सुबह की ट्रेन रद हैं।
रेलवे स्टेशन पर सुबह पांच बजे से ही यात्री बस डिपो आना शुरू होते गए। बस की संख्या भी अग्निपथ को लेकर कम कर दी गई। इस वजह से यात्रियों को बस डिपो पर जाकर भी बसों के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। सुबह आठ बजे तक करनाल और दिल्ली की तरफ बस डिपो पर 500 से ज्यादा यात्री बस का इंतजार करते दिखे। सोमवार को हिसार, सोनीपत, रोहतक सड़क जाम करने के बाद पानीपत डिपो से जाने वाली बस ज्यादातर नहीं चलीं। ट्रैफिक इंचार्ज पंकज पुनिया ने बताया कि जिन रूट पर प्रदर्शन हो रहे थे, वहां बसों की संख्या कम की गई। रोहतक रूट सुबह 10 बजे के बाद बस नहीं भेजी गई।
रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ रही तैनात
रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ रविवार देर रात से ही तैनात रही। युवाओं का भारत बंद आह्वान के बाद सभी संवेदनशील स्टेशन पर अलर्ट जारी कर दिया गया, जिसके बाद से जीआरपी रेलवे स्टेशन पर रात भर गश्त पर रही और आरपीएफ रेलवे स्टेेशन के पास कॉलोनी और रेलवे ट्रैक पर तैनात रही। जीआरपी प्रभारी राजकुमार ने बताया कि टीम पूरी तरह तैयारी है। पूरी रात स्टेशन पर तैनात हैं। किसी भी कर्मी को छुट्टी नहीं दी जा रही है।

पानीपत। अग्निपथ योजना के विरोध को देखते हुए सोमवार को दिल्ली जाने वाली ट्रेनें रद रहीं। इससे यात्रियों को भारी परेशानी हुई। सोमवार को अग्निपथ योजना के विरोध में देश बंद का आह्वान करने के बाद 19 जून रात को दिल्ली जाने वाली लगभग सभी ट्रेनों को रद कर दिया गया। यात्रियों को जानकारी न होने के कारण वे रोजाना की तरह स्टेशन पहुंचे। वहां पता चला कि दिल्ली जाने वाली सुबह की ट्रेन रद हैं।

रेलवे स्टेशन पर सुबह पांच बजे से ही यात्री बस डिपो आना शुरू होते गए। बस की संख्या भी अग्निपथ को लेकर कम कर दी गई। इस वजह से यात्रियों को बस डिपो पर जाकर भी बसों के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा। सुबह आठ बजे तक करनाल और दिल्ली की तरफ बस डिपो पर 500 से ज्यादा यात्री बस का इंतजार करते दिखे। सोमवार को हिसार, सोनीपत, रोहतक सड़क जाम करने के बाद पानीपत डिपो से जाने वाली बस ज्यादातर नहीं चलीं। ट्रैफिक इंचार्ज पंकज पुनिया ने बताया कि जिन रूट पर प्रदर्शन हो रहे थे, वहां बसों की संख्या कम की गई। रोहतक रूट सुबह 10 बजे के बाद बस नहीं भेजी गई।

रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ रही तैनात

रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ रविवार देर रात से ही तैनात रही। युवाओं का भारत बंद आह्वान के बाद सभी संवेदनशील स्टेशन पर अलर्ट जारी कर दिया गया, जिसके बाद से जीआरपी रेलवे स्टेशन पर रात भर गश्त पर रही और आरपीएफ रेलवे स्टेेशन के पास कॉलोनी और रेलवे ट्रैक पर तैनात रही। जीआरपी प्रभारी राजकुमार ने बताया कि टीम पूरी तरह तैयारी है। पूरी रात स्टेशन पर तैनात हैं। किसी भी कर्मी को छुट्टी नहीं दी जा रही है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

अग्निपथ : दो टोल प्लाजा तीन घंटे तक फ्री रहे

लगातार बढ़ते जा रहे कोरोना संक्रमण के मामले, पांच नए मामले आए सामने