दहेज के लिए महिला को बच्चों समेत घर से निकाला


ख़बर सुनें

नारायणगढ़। दहेज के लिए प्रताड़ित करने, मारपीट करने, धमकी देने और बच्चों सहित घर से निकालने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित विवाहिता की शिकायत पर पुलिस ने तीन महिलाओं सहित पांच के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। क्षेत्र के गांव की एक विवाहिता ने शिकायत में बताया कि उसकी शादी 11 दिसंबर 2010 को कुरुक्षेत्र के गांव सूरा के युवक के साथ हुई थी। शादी में उसके परिजनों ने हैसियत से अधिक रुपये खर्च किए थे।
विवाहिता के अनुसार, शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित कर उसके साथ मारपीट करते थे। आरोप है कि उसके पति के किसी अन्य महिला के साथ संबंध थे और वह उससे साथ शादी करना चाहता था। शिकायतकर्ता ने कहा, इस बारे में कई बार पंचायतें हुई। इनमें ससुराल वालों ने मायके वालों से माफी मांगी। उन्होंने बताया उसके पास दो लड़कियां व एक लड़का है। मेरे पति व ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट कर बच्चों के साथ कमरे में बंद कर दिया।
उसके शोर मचाने पर पड़ोसियों ने दरवाजा खोलकर उसे व बच्चों को बाहर निकाला। इसके बाद पति ने मेरे पेट में लात, मुक्के और कमर पर डंडे मारे। इस पर उसने मायके में फोन किया। वहां से उसके परिजन पंचायत लेकर आए। ससुरालियों ने मायके वालों के साथ गालीगलौज कर उसे व बच्चों को घर से निकाल दिया। महिला थान पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नारायणगढ़। दहेज के लिए प्रताड़ित करने, मारपीट करने, धमकी देने और बच्चों सहित घर से निकालने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित विवाहिता की शिकायत पर पुलिस ने तीन महिलाओं सहित पांच के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। क्षेत्र के गांव की एक विवाहिता ने शिकायत में बताया कि उसकी शादी 11 दिसंबर 2010 को कुरुक्षेत्र के गांव सूरा के युवक के साथ हुई थी। शादी में उसके परिजनों ने हैसियत से अधिक रुपये खर्च किए थे।

विवाहिता के अनुसार, शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित कर उसके साथ मारपीट करते थे। आरोप है कि उसके पति के किसी अन्य महिला के साथ संबंध थे और वह उससे साथ शादी करना चाहता था। शिकायतकर्ता ने कहा, इस बारे में कई बार पंचायतें हुई। इनमें ससुराल वालों ने मायके वालों से माफी मांगी। उन्होंने बताया उसके पास दो लड़कियां व एक लड़का है। मेरे पति व ससुराल वालों ने उसके साथ मारपीट कर बच्चों के साथ कमरे में बंद कर दिया।

उसके शोर मचाने पर पड़ोसियों ने दरवाजा खोलकर उसे व बच्चों को बाहर निकाला। इसके बाद पति ने मेरे पेट में लात, मुक्के और कमर पर डंडे मारे। इस पर उसने मायके में फोन किया। वहां से उसके परिजन पंचायत लेकर आए। ससुरालियों ने मायके वालों के साथ गालीगलौज कर उसे व बच्चों को घर से निकाल दिया। महिला थान पुलिस मामले की जांच कर रही है।

.


What do you think?

दिनभर गर्मी, शाम को बारिश, फिर बढ़ी उमस

चोरी के मामले में गिरफ्तार बंदी की गई जान