in

तीन लाख पौधों का वितरण करेगा वन विभाग


Forest department will distribute three lakh plants

ख़बर सुनें

पलवल। वन विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए इस वर्ष 6.5 लाख पौधे तैयार किए गए हैं। विभाग द्वारा 3.5 लाख पौधों का रोपण तथा विभिन्न योजनाओं के तहत तीन लाख पौधों का वितरण किया जाएगा। रविवार को विश्व पर्यावरण दिवस पर वन विभाग द्वारा पौधरोपण अभियान का शुभारंभ किया गया। वन विभाग के कार्यालय में जिला वन्य अधिकारी दीपक पाटिल ने पौधरोपण किया।
उन्होंने कहा कि हर वर्ष विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए लाखों पौधों का रोपण और वितरण किया जाता है। ये पौधे स्कूल, व्यायामशाला, खेल परिसर, सामुदायिक भवनों, कॉलेज, आईटीआई तथा सड़क, तालाब व रजवाहों के किनारे लगाए जाते हैं। इस अवसर पर 3.5 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इनके अलावा जल शक्ति अभियान व पौधागीरी के तहत तीन लाख पौधों का वितरण स्कूली छात्रों और ग्राम पंचायतों में किया जाएगा। विभाग ने 31 प्रकार के फल और छायादार पौधे तैयार किए हैं। छायादार पौधों में नीम, शीशम, पापड़ी, बकैल, गुड़ैल, सफेदा, पिलखन, पीपल, अर्जुन, अलस्टोनिया, गुलाब शामिल हैं। जबकि फलदार पौधों में जामुन, अमरूद, शहतूत, अनार, आंवला, इमली आदि पौधे हैं। इस अवसर पर वन राजिक अधिकारी अमरदीप सिंह यादव भी मौजूद रहे।

पलवल। वन विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए इस वर्ष 6.5 लाख पौधे तैयार किए गए हैं। विभाग द्वारा 3.5 लाख पौधों का रोपण तथा विभिन्न योजनाओं के तहत तीन लाख पौधों का वितरण किया जाएगा। रविवार को विश्व पर्यावरण दिवस पर वन विभाग द्वारा पौधरोपण अभियान का शुभारंभ किया गया। वन विभाग के कार्यालय में जिला वन्य अधिकारी दीपक पाटिल ने पौधरोपण किया।

उन्होंने कहा कि हर वर्ष विभाग द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए लाखों पौधों का रोपण और वितरण किया जाता है। ये पौधे स्कूल, व्यायामशाला, खेल परिसर, सामुदायिक भवनों, कॉलेज, आईटीआई तथा सड़क, तालाब व रजवाहों के किनारे लगाए जाते हैं। इस अवसर पर 3.5 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इनके अलावा जल शक्ति अभियान व पौधागीरी के तहत तीन लाख पौधों का वितरण स्कूली छात्रों और ग्राम पंचायतों में किया जाएगा। विभाग ने 31 प्रकार के फल और छायादार पौधे तैयार किए हैं। छायादार पौधों में नीम, शीशम, पापड़ी, बकैल, गुड़ैल, सफेदा, पिलखन, पीपल, अर्जुन, अलस्टोनिया, गुलाब शामिल हैं। जबकि फलदार पौधों में जामुन, अमरूद, शहतूत, अनार, आंवला, इमली आदि पौधे हैं। इस अवसर पर वन राजिक अधिकारी अमरदीप सिंह यादव भी मौजूद रहे।

.


अहीर रेजिमेंट के लिए 23 सितंबर को दिल्ली कूच

तीन साल पहले बुक यूनिट का बिलडर ने किया आवंटन रद्द