in

तमंचे दिखा दो भाइयों का अपहरण, एक को हथौड़े और रॉड से पीट-पीटकर मार डाला


ख़बर सुनें

पलवल। जनौली गांव के समीप बदमाशों ने तमंचे दिखाकर फतेहपुर बिल्लौच निवासी दो भाइयों सागर और पवन उर्फ कालू का अपहरण कर लिया। इसके बाद दोनों को मांदकौल के जंगल में ले गए, जहां हथौड़े और रॉड से पीट-पीटकर पवन की हत्या कर दी। इस दौरान सागर को बंधक बनाकर रखा। गदपुरी थाना पुलिस ने पवन के भाई सागर की शिकायत पर अपहरण और हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत एक नामजद सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। फरीदाबाद स्थित बादशाह खान अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।
डीएसपी मुख्यालय अनिल कुमार ने बताया कि गांव फतेहपुर बिल्लौच निवासी सागर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि बृहस्पतिवार शाम करीब सात बजे वह अपने भाई पवन उर्फ कालू के साथ पलवल से जनौली होते हुए गांव जा रहा था। गांव जनौली के समीप गौरव, उसके भाई और अन्य साथियों ने रास्ते में रोककर हवाई फायरिंग कर दी। बंदूक दिखाकर पवन को सफारी गाड़ी में डालकर अपहरण कर लिया तथा सागर को भी बाइक पर बिठाया और साथ ले गए। दोनों भाइयों को गांव मांदकौल के जंगल में ले गए और सागर को बंधक बना लिया। पवन को हथौड़े और रॉड से पीटना शुरू कर दिया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी। पवन को बेहोशी की हालत तक बुरी तरह पीटते रहे और मरा हुआ समझकर फरार हो गए। सागर ने अपने छोटे भाई लाला और मामा केशव को बुलाया। इसके बाद पवन को पलवल अस्पताल में ले गए। गंभीर हालत देखते हुए चिकित्सकों ने उसे फरीदाबाद के लिए रेफर कर दिया। फरीदाबाद के मेट्रो अस्पताल में उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शिकायत के आधार पर हत्या, अपहरण, रास्ता रोकने और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

पलवल। जनौली गांव के समीप बदमाशों ने तमंचे दिखाकर फतेहपुर बिल्लौच निवासी दो भाइयों सागर और पवन उर्फ कालू का अपहरण कर लिया। इसके बाद दोनों को मांदकौल के जंगल में ले गए, जहां हथौड़े और रॉड से पीट-पीटकर पवन की हत्या कर दी। इस दौरान सागर को बंधक बनाकर रखा। गदपुरी थाना पुलिस ने पवन के भाई सागर की शिकायत पर अपहरण और हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत एक नामजद सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। फरीदाबाद स्थित बादशाह खान अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

डीएसपी मुख्यालय अनिल कुमार ने बताया कि गांव फतेहपुर बिल्लौच निवासी सागर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि बृहस्पतिवार शाम करीब सात बजे वह अपने भाई पवन उर्फ कालू के साथ पलवल से जनौली होते हुए गांव जा रहा था। गांव जनौली के समीप गौरव, उसके भाई और अन्य साथियों ने रास्ते में रोककर हवाई फायरिंग कर दी। बंदूक दिखाकर पवन को सफारी गाड़ी में डालकर अपहरण कर लिया तथा सागर को भी बाइक पर बिठाया और साथ ले गए। दोनों भाइयों को गांव मांदकौल के जंगल में ले गए और सागर को बंधक बना लिया। पवन को हथौड़े और रॉड से पीटना शुरू कर दिया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी। पवन को बेहोशी की हालत तक बुरी तरह पीटते रहे और मरा हुआ समझकर फरार हो गए। सागर ने अपने छोटे भाई लाला और मामा केशव को बुलाया। इसके बाद पवन को पलवल अस्पताल में ले गए। गंभीर हालत देखते हुए चिकित्सकों ने उसे फरीदाबाद के लिए रेफर कर दिया। फरीदाबाद के मेट्रो अस्पताल में उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शिकायत के आधार पर हत्या, अपहरण, रास्ता रोकने और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

.


युवक की हत्या मामले में पुलिस से मुठभेड़, तीन गिरफ्तार

निजीकरण के विरोध में कर्मचारियों ने निकाला जुलूस, लघु सचिवालय पर सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा की जिला इकाई ने किया प्रदर्शन