डस्टबिन मामले की जांच शुरू, एसडीएम के नेतृत्व में कमेटी का गठन


ख़बर सुनें

सिरसा। शहर में लगाए गए डस्टबिन में धांधली बरतने की शिकायत पर उपायुक्त ने जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। जांच के लिए एसडीएम और नगर परिषद के प्रशासक जयवीर यादव के नेतृत्व में अधिकारियों की कमेटी का गठन किया है। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। इस कमेटी में पंचायती राज विभाग के एक्सईएन और लोक निर्माण विभाग के भी एक्सईएन को शामिल किया गया है।
नगर परिषद की ओर से घर-घर डस्टबिन मुहैया करवाने के लिए 30 हजार डस्टबिन खरीदे गए थे। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर कचरा एकत्रित करने के लिए 100 लीटर क्षमता वाले 600 सैट डस्टबिन खरीदे गए। इन डस्टबिन की खरीद पर लगभग एक करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई थी। शिकायतें मिली कि डस्टबिन की खरीद में धांधली की गई हैं। शिकायत मिलने पर सरकार की ओर से जांच करवाने का फैसला लिया गया। अब उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने एसडीएम सिरसा डॉ. जयवीर यादव की अगुवाई में टीम गठित की गई है, इस टीम द्वारा डस्टबिन की खरीद मामले की जांच की जाएगी। जांच टीम द्वारा खरीद प्रक्रिया, डस्टबिन की बाजारी कीमत का तुलनात्मक अध्ययन किया जाएगा।
——————-
शिकायत में यह दर्शाई कीमत
आइटम कुल कीमत खरीद भाव बाजारी भाव
छोटा डस्टबिन 48 लाख 165 रुपय 50 रुपये
बड़ा डस्टबिन 48 लाख 8000 रुपये 2500 रुपये
बेंच 48 लाख 12 हजार रुपय 6500 रुपये
झूले 48 लाख 1.65 लाख 65 हजार
जिम 48 लाख 1.80 लाख 60 हजार
मोबाइल शौचालय 48 लाख 2.80 लाख 1.25 लाख
डस्टबिन मामले में जांच के आदेश हुए हैं। तीन अधिकारियों पर आधारित टीम बनाई है। जल्द ही जांच करके रिपोर्ट सौंपी जाएगी। इसके आधार पर सरकार और प्रशासन आगे की कार्रवाई करेंगे। -डॉ. जयवीर यादव, एसडीएम, सिरसा।

सिरसा। शहर में लगाए गए डस्टबिन में धांधली बरतने की शिकायत पर उपायुक्त ने जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। जांच के लिए एसडीएम और नगर परिषद के प्रशासक जयवीर यादव के नेतृत्व में अधिकारियों की कमेटी का गठन किया है। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। इस कमेटी में पंचायती राज विभाग के एक्सईएन और लोक निर्माण विभाग के भी एक्सईएन को शामिल किया गया है।

नगर परिषद की ओर से घर-घर डस्टबिन मुहैया करवाने के लिए 30 हजार डस्टबिन खरीदे गए थे। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर कचरा एकत्रित करने के लिए 100 लीटर क्षमता वाले 600 सैट डस्टबिन खरीदे गए। इन डस्टबिन की खरीद पर लगभग एक करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई थी। शिकायतें मिली कि डस्टबिन की खरीद में धांधली की गई हैं। शिकायत मिलने पर सरकार की ओर से जांच करवाने का फैसला लिया गया। अब उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने एसडीएम सिरसा डॉ. जयवीर यादव की अगुवाई में टीम गठित की गई है, इस टीम द्वारा डस्टबिन की खरीद मामले की जांच की जाएगी। जांच टीम द्वारा खरीद प्रक्रिया, डस्टबिन की बाजारी कीमत का तुलनात्मक अध्ययन किया जाएगा।

——————-

शिकायत में यह दर्शाई कीमत

आइटम कुल कीमत खरीद भाव बाजारी भाव

छोटा डस्टबिन 48 लाख 165 रुपय 50 रुपये

बड़ा डस्टबिन 48 लाख 8000 रुपये 2500 रुपये

बेंच 48 लाख 12 हजार रुपय 6500 रुपये

झूले 48 लाख 1.65 लाख 65 हजार

जिम 48 लाख 1.80 लाख 60 हजार

मोबाइल शौचालय 48 लाख 2.80 लाख 1.25 लाख

डस्टबिन मामले में जांच के आदेश हुए हैं। तीन अधिकारियों पर आधारित टीम बनाई है। जल्द ही जांच करके रिपोर्ट सौंपी जाएगी। इसके आधार पर सरकार और प्रशासन आगे की कार्रवाई करेंगे। -डॉ. जयवीर यादव, एसडीएम, सिरसा।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

मानसून से पहले एक लाख घरों को सर्वे, 650 घरों में मिला लारवा

पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, तापमान में 2.9 की आई गिरावट