झज्जर: गांव खोरड़ा में सिर पर चोट मारकर की किसान की हत्या, चरखी दादरी में हुआ पोस्टमार्टम


ख़बर सुनें

हरियाणा के झज्जर जिले के साल्हावास क्षेत्र के गांव खोरड़ा में एक 57 वर्षीय व्यक्ति की सिर में नुकीले हथियार से चोट मारकर हत्या कर दी गई है। परिजनों ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही एसआई जिले सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम मौके पर पहुंची। उन्होंने एफएसएल टीम भी मौके पर बुलाया।

एफएसएल टीम ने पुलिस के साथ मौका मुआयना कर घटना से संबंधित साक्ष्य जुटाए हैं। मृतक धर्मवीर के शरीर पर कई अन्य जगह भी चोट के निशान मिले हैं। परिजनों ने शक की बुनियाद पर कुछ लोगों के नाम पुलिस को बताए हैं।

खोरड़ा निवासी दीपक ने बताया कि वह पिछले 12 साल से अपने मामा धर्मवीर के पास रहता है। उनके मामा शनि मंदिर के पास खेत में ज्वार की रखवाली करने के लिए गए थे। खेत से न लौटने पर परिजन उन्हें बुलाने के लिए गए तो धर्मवीर वहां मनोज निवासी झामरी के साथ खेत में काम कर रहा था।

परिजनों ने उन्हें घर आने के लिए कहा तो धर्मवीर ने कहा कि वह जल्दी घर आ जाएंगे। जब दोपहर 12 बजे तक भी धर्मवीर घर नहीं लौटे तो परिजन खाना लेकर खेत में पहुंचे लेकिन खेत में धर्मवीर नहीं मिले। परिजनों ने आसपास तलाश की तो गांव के ही हिंदौखला जोहड़ के पास स्थित शनि मंदिर के निकट धर्मवीर बेहोशी की हालत में मिला।

परिजनों ने तुरंत पुलिस को सूचित किया और पुलिस की मौजूदगी में धर्मवीर को चरखी दादरी के सामान्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां पर कुछ देर बाद ही धर्मवीर ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया।

मृतक अपने पीछे तीन लड़कियां छोड़ गया है। परिजनों ने इस मामले में हिंदौखला जोहड़ के पास स्थित शनि मंदिर में रहने वाले महाराष्ट्र के एक साधू की भूमिका भी संदिग्ध बताई है। शक की बुनियाद पर और पूछताछ के लिए पुलिस ने साधू के अलावा चार से पांच अन्य लोगों को भी काबू है।

पुलिस क्षेत्र में लगातार कर रही है गश्त
खोरडा गांव में हुई हत्या के बाद पुलिस हरकत में आई है और वह लगातार क्षेत्र में गश्त लगा रही है। इसी कड़ी में  जांच अधिकारी जिले सिंह ने बताया कि वे जल्द ही इस मामले में पर्दाफाश करेंगे और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है। जल्द ही  इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। – सत्यपाल, थाना प्रभारी, साल्हावास।

विस्तार

हरियाणा के झज्जर जिले के साल्हावास क्षेत्र के गांव खोरड़ा में एक 57 वर्षीय व्यक्ति की सिर में नुकीले हथियार से चोट मारकर हत्या कर दी गई है। परिजनों ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही एसआई जिले सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम मौके पर पहुंची। उन्होंने एफएसएल टीम भी मौके पर बुलाया।

एफएसएल टीम ने पुलिस के साथ मौका मुआयना कर घटना से संबंधित साक्ष्य जुटाए हैं। मृतक धर्मवीर के शरीर पर कई अन्य जगह भी चोट के निशान मिले हैं। परिजनों ने शक की बुनियाद पर कुछ लोगों के नाम पुलिस को बताए हैं।

खोरड़ा निवासी दीपक ने बताया कि वह पिछले 12 साल से अपने मामा धर्मवीर के पास रहता है। उनके मामा शनि मंदिर के पास खेत में ज्वार की रखवाली करने के लिए गए थे। खेत से न लौटने पर परिजन उन्हें बुलाने के लिए गए तो धर्मवीर वहां मनोज निवासी झामरी के साथ खेत में काम कर रहा था।

परिजनों ने उन्हें घर आने के लिए कहा तो धर्मवीर ने कहा कि वह जल्दी घर आ जाएंगे। जब दोपहर 12 बजे तक भी धर्मवीर घर नहीं लौटे तो परिजन खाना लेकर खेत में पहुंचे लेकिन खेत में धर्मवीर नहीं मिले। परिजनों ने आसपास तलाश की तो गांव के ही हिंदौखला जोहड़ के पास स्थित शनि मंदिर के निकट धर्मवीर बेहोशी की हालत में मिला।

परिजनों ने तुरंत पुलिस को सूचित किया और पुलिस की मौजूदगी में धर्मवीर को चरखी दादरी के सामान्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां पर कुछ देर बाद ही धर्मवीर ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया।

मृतक अपने पीछे तीन लड़कियां छोड़ गया है। परिजनों ने इस मामले में हिंदौखला जोहड़ के पास स्थित शनि मंदिर में रहने वाले महाराष्ट्र के एक साधू की भूमिका भी संदिग्ध बताई है। शक की बुनियाद पर और पूछताछ के लिए पुलिस ने साधू के अलावा चार से पांच अन्य लोगों को भी काबू है।

पुलिस क्षेत्र में लगातार कर रही है गश्त

खोरडा गांव में हुई हत्या के बाद पुलिस हरकत में आई है और वह लगातार क्षेत्र में गश्त लगा रही है। इसी कड़ी में  जांच अधिकारी जिले सिंह ने बताया कि वे जल्द ही इस मामले में पर्दाफाश करेंगे और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है। जल्द ही  इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। – सत्यपाल, थाना प्रभारी, साल्हावास।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

Sirsa Municipal Election: डिप्टी सीएम, बिजली मंत्री और विधायक के भाई मिलकर नहीं जिता पाए एक भी सीट

‘चहुंमुखी विकास है