जेल की एसटीडी से की फोन की डिमांड, दीवार से फेंके चार तो पकड़े गए


ख़बर सुनें

अंबाला। सेंट्रल जेल अंबाला से जेल प्रशासन ने चार मोबाइल बरामद किए। दीवार पार से फेंके गए मोबाइल के पैकेट को उठाने के लिए जैसे ही हवालाती आए तो उन्हें मौके पर ही दबोच लिया। पूछताछ में बिजली बोर्ड कुम्हार मंडी निवासी हवालाती अंकुश व गौरव ने बताया कि उन्होंने जेल की एसटीडी से फोन कर घर पर मां से फोन मंगवाए थे। बलदेव नगर थाना पुलिस ने केस दर्ज जांच शुरू कर दी है।
पुलिस को सौंपी शिकायत में उप सहायक अधीक्षक धर्मपाल ने बताया कि दोनों से पूछताछ की गई। इसमें अंकुश ने बताया कि उन्होंने कुछ दिन पहले ही योजना बनाई थी। जेल में एसटीडी से अपनी मां के पास कॉल कर परिसर में मोबाइल फेंकने की बात कही थी। पूछताछ में अंकुश ने बताया कि उसका भाई सानु और उसकी मां रजनी ने एक पैकेट में चार मोबाइल जेल में फेंके थे। मोबाइल ब्लॉक नंबर-5 के निकट खाली जगह में पड़े थे। वह अपने परिजनों और रिश्तेदारों से बात करना चाहते थे। बलदेव नगर थाना प्रभारी गौरव पूनिया ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जल्द ही आरोपियों को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ करेंगे।

अंबाला। सेंट्रल जेल अंबाला से जेल प्रशासन ने चार मोबाइल बरामद किए। दीवार पार से फेंके गए मोबाइल के पैकेट को उठाने के लिए जैसे ही हवालाती आए तो उन्हें मौके पर ही दबोच लिया। पूछताछ में बिजली बोर्ड कुम्हार मंडी निवासी हवालाती अंकुश व गौरव ने बताया कि उन्होंने जेल की एसटीडी से फोन कर घर पर मां से फोन मंगवाए थे। बलदेव नगर थाना पुलिस ने केस दर्ज जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को सौंपी शिकायत में उप सहायक अधीक्षक धर्मपाल ने बताया कि दोनों से पूछताछ की गई। इसमें अंकुश ने बताया कि उन्होंने कुछ दिन पहले ही योजना बनाई थी। जेल में एसटीडी से अपनी मां के पास कॉल कर परिसर में मोबाइल फेंकने की बात कही थी। पूछताछ में अंकुश ने बताया कि उसका भाई सानु और उसकी मां रजनी ने एक पैकेट में चार मोबाइल जेल में फेंके थे। मोबाइल ब्लॉक नंबर-5 के निकट खाली जगह में पड़े थे। वह अपने परिजनों और रिश्तेदारों से बात करना चाहते थे। बलदेव नगर थाना प्रभारी गौरव पूनिया ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जल्द ही आरोपियों को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ करेंगे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

बरसात से मिली राहत, फिर आंधी बनी आफत

जमीन बेचने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी