जालौर और हनुमानगढ जिलों में तीन सरकारी कर्मचारी रिश्वत लेते गिरफ्तार


जयपुर, 30 नवंबर (भाषा) भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने जालौर और हनुमानगढ़ जिलों में बुधवार को तीन सरकारी कर्मचारियों को रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया।

जालौर जिले में ब्यूरो के दल ने भीनमाल नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी एवं कनिष्ठ सहायक को चार लाख रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। वहीं, एक अन्य दल ने हनुमानगढ़ में एक परिवहन उपनिरीक्षक को 90 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ लिया।

ब्यूरो के महानिदेशक बी एल सोनी ने बताया कि जालौर जिले की भीनमाल नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी आशुतोष आचार्य ने परिवादी से उसके आवासीय भूखण्ड का पट्टा जारी करने के एवज में 12 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की थी और परिवादी के आग्रह पर वह पांच लाख रुपये रिश्वत लेने पर सहमत हुआ।

उन्होंने बताया कि दल ने आशुतोष एवं कनिष्ठ सहायक जगदीश जाट को परिवादी से चार लाख रुपये (50 हजार रुपये भारतीय मुद्रा एवं तीन लाख 50 हजार रुपये की डमी मुद्रा) की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ लिया।

सोनी ने कहा कि हनुमानगढ़ में परिवहन उपनिरीक्षक बलवान कुमार ने परिवादी से उसकी ट्रांसपोर्ट कंपनी की गाड़ियों का चालान नहीं करने के एवज में मासिक राशि के रूप में 90 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की थी।

उन्होंने बताया कि शिकायत के सत्यापन के बाद दल ने आरोपी बलवान सिंह को परिवादी से 90 हजार रुपये की रिश्वत राशि लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया।

अधिकारी ने कहा कि आरोपियों के निवास एवं अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

संगरूर में पंजाब के मुख्यमंत्री के आवास के बाहर मजदूरों का प्रदर्शन, लाठीचार्ज का दावा

राजस्थान: करौली में दो गुटों के बीच आपसी विवाद में एक महिला की हत्या, दो अन्य घायल