in

जलभराव से सुनारिया गांव को स्थायी राहत का दावा


ख़बर सुनें

रोहतक। बारिश में तालाब ओवरफ्लो होने से सुनारिया गांव में जलभराव की गंभीर समस्या का बुधवार को नगर निगम ने समाधान करने का दावा किया। तालाब में स्थायी पंप सेट लगाकर चालू कर दिया है, जो तालाब का पानी लगातार नजदीकी ड्रेन में डालेगा। पंप सेट संचालन करने के लिए दो कर्मियों की ड्यूटी भी लगाई है।
नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि सुनारिया गांव में एक तालाब है, जिसमें सभी घरों से निकलने वाला पानी जमा होता है। तालाब से पानी की निकासी नहीं होने की वजह से आएदिन जलभराव की समस्या पैदा होती है। बारिश के दिनों में गांव के अंदर नारकीय हालात हो जाते हैं। काफी जलभराव होने की वजह से पानी घरों तक में चला जाता है। इस समस्या का स्थायी निदान करने के लिए तालाब के पास कमरा बनाकर स्थायी रूप से पंप सेट लगवाया है। बिजली कनेक्शन मिलने पर बुधवार को पंप सेट चालू कर दिया गया है, जिसका पानी नजदीकी ड्रेन में छोड़ना शुरू कर दिया है। पंप सेट चलाने के लिए निगम के दो कर्मियों की ड्यूटी लगाई है। पंप सेट लगातार चलता रहेगा, जिससे तालाब का पानी निकलेगा और बारिश के दौरान गांव में जलभराव की समस्या पैदा नहीं होगी।
अधिशासी अभियंता हेडक्वार्टर मनजीत दहिया ने बताया कि सुनारिया गांव के तालाब की जलनिकासी व्यवस्था नहीं होने की वजह से जलभराव की काफी गंभीर समस्या थी। इस समस्या का स्थायी समाधान करते हुए स्थायी पंप सेट लगवाकर चालू करवा दिया है। तालाब का पानी नजदीकी ड्रेन में छोड़ा जा रहा है। इससे बारिश में भी जलभराव की समस्या से लोगों को राहत मिलेगी।

रोहतक। बारिश में तालाब ओवरफ्लो होने से सुनारिया गांव में जलभराव की गंभीर समस्या का बुधवार को नगर निगम ने समाधान करने का दावा किया। तालाब में स्थायी पंप सेट लगाकर चालू कर दिया है, जो तालाब का पानी लगातार नजदीकी ड्रेन में डालेगा। पंप सेट संचालन करने के लिए दो कर्मियों की ड्यूटी भी लगाई है।

नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि सुनारिया गांव में एक तालाब है, जिसमें सभी घरों से निकलने वाला पानी जमा होता है। तालाब से पानी की निकासी नहीं होने की वजह से आएदिन जलभराव की समस्या पैदा होती है। बारिश के दिनों में गांव के अंदर नारकीय हालात हो जाते हैं। काफी जलभराव होने की वजह से पानी घरों तक में चला जाता है। इस समस्या का स्थायी निदान करने के लिए तालाब के पास कमरा बनाकर स्थायी रूप से पंप सेट लगवाया है। बिजली कनेक्शन मिलने पर बुधवार को पंप सेट चालू कर दिया गया है, जिसका पानी नजदीकी ड्रेन में छोड़ना शुरू कर दिया है। पंप सेट चलाने के लिए निगम के दो कर्मियों की ड्यूटी लगाई है। पंप सेट लगातार चलता रहेगा, जिससे तालाब का पानी निकलेगा और बारिश के दौरान गांव में जलभराव की समस्या पैदा नहीं होगी।

अधिशासी अभियंता हेडक्वार्टर मनजीत दहिया ने बताया कि सुनारिया गांव के तालाब की जलनिकासी व्यवस्था नहीं होने की वजह से जलभराव की काफी गंभीर समस्या थी। इस समस्या का स्थायी समाधान करते हुए स्थायी पंप सेट लगवाकर चालू करवा दिया है। तालाब का पानी नजदीकी ड्रेन में छोड़ा जा रहा है। इससे बारिश में भी जलभराव की समस्या से लोगों को राहत मिलेगी।

.


पंचकूला से मिला निर्देश तो बूस्टरों के संयुक्त निरीक्षण के लिए राजी हुआ जनस्वास्थ्य विभाग

अगवाकर नकदी ले जाने के मामले में चार आरोपी काबू