चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारियों एवं कर्मचारियों की हुई फ ाइनल रिहर्सल


ख़बर सुनें

जींद। नगर पालिका सफीदों के चुनाव को लेकर रिटर्निंग अधिकारी व एसडीएम सत्यवान मान ने वीरवार को नगर के सरला देवी कॉलेज में चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारियों और कर्मचारियों को चुनाव कार्यों का अभ्यास कराया। कहा कि राज्य चुनाव आयोग ने पीठासीन अधिकारियों के कार्यों को लेकर हैंडबुक तैयार की है। मतदान से पहले सभी पीठासीन अधिकारी इसे अच्छी तरह पढ़ लें। इसके साथ ही किट मिलेगी जिसमें तीन तरह की सामग्री।
किट में बूथ से संबंधित मतदाता सूची, चुनाव संबंधी फार्म और कार्बन पेपर व स्टैंप पैड आदि होंगे। मतदान की गोपनीयता भंग नहीं होनी चाहिए। ईवीएम निजी स्थान पर नहीं रखी जाएंगी। मतदान के दिन मतदान केंद्र पर दो ईवीएम रखी जाएंगी। एक मशीन प्रधान और दूसरी पार्षद पद के लिए होगी। प्रधान पद का मत डालने के बाद पार्षद पद का मत डाला जाएगा।
बताया कि सबसे पहले पोलिंग एजेंटों की उपस्थिति में मॉक पोल कराएं। अगर पोलिंग एजेंट समय पर न पहुंचे तो सुपरवाइजर व केंद्र पर पहुंचे मतदाता की उपस्थिति में मॉक पोल कराया जाए। चुनाव के लिए ईवीएम की कंट्रोलिंग व बैलेट यूनिट मिलेंगी। मतदान के दौरान ईवीएम में खराबी आती है तो दोनों ईवीएम बदली जाएंगी। नई मशीन से मतदान आरंभ करने से पहले मॉक पोल कराएं। 19 जून को मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगा। पीठासीन अधिकारी मतदान शुरू होने के समय से एक घंटा पहले मॉक पोल जरूर करें। मतदान के दौरान महिला व पुरुषों की संख्या भी साथ-साथ अंकित करते जाए ताकि प्रति दो घंटे में दी जाने वाली रिपोर्ट में यह बताने में सुविधा हो कि कितने महिला व पुरुष मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया है।
बाक्स
19 जून को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा। मतगणना 22 जून को सुबह आठ बजे शुरू होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे। अगर 19 जून को किसी मतदान केंद्र पर रुकावट आती है तो उस मतदान केंद्र का चुनाव 21 जून को दोबारा कराया जाएगा।-सत्यवान मान, एसडीएम व रिटर्निंग अधिकारी

जींद। नगर पालिका सफीदों के चुनाव को लेकर रिटर्निंग अधिकारी व एसडीएम सत्यवान मान ने वीरवार को नगर के सरला देवी कॉलेज में चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारियों और कर्मचारियों को चुनाव कार्यों का अभ्यास कराया। कहा कि राज्य चुनाव आयोग ने पीठासीन अधिकारियों के कार्यों को लेकर हैंडबुक तैयार की है। मतदान से पहले सभी पीठासीन अधिकारी इसे अच्छी तरह पढ़ लें। इसके साथ ही किट मिलेगी जिसमें तीन तरह की सामग्री।

किट में बूथ से संबंधित मतदाता सूची, चुनाव संबंधी फार्म और कार्बन पेपर व स्टैंप पैड आदि होंगे। मतदान की गोपनीयता भंग नहीं होनी चाहिए। ईवीएम निजी स्थान पर नहीं रखी जाएंगी। मतदान के दिन मतदान केंद्र पर दो ईवीएम रखी जाएंगी। एक मशीन प्रधान और दूसरी पार्षद पद के लिए होगी। प्रधान पद का मत डालने के बाद पार्षद पद का मत डाला जाएगा।

बताया कि सबसे पहले पोलिंग एजेंटों की उपस्थिति में मॉक पोल कराएं। अगर पोलिंग एजेंट समय पर न पहुंचे तो सुपरवाइजर व केंद्र पर पहुंचे मतदाता की उपस्थिति में मॉक पोल कराया जाए। चुनाव के लिए ईवीएम की कंट्रोलिंग व बैलेट यूनिट मिलेंगी। मतदान के दौरान ईवीएम में खराबी आती है तो दोनों ईवीएम बदली जाएंगी। नई मशीन से मतदान आरंभ करने से पहले मॉक पोल कराएं। 19 जून को मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगा। पीठासीन अधिकारी मतदान शुरू होने के समय से एक घंटा पहले मॉक पोल जरूर करें। मतदान के दौरान महिला व पुरुषों की संख्या भी साथ-साथ अंकित करते जाए ताकि प्रति दो घंटे में दी जाने वाली रिपोर्ट में यह बताने में सुविधा हो कि कितने महिला व पुरुष मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया है।

बाक्स

19 जून को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा। मतगणना 22 जून को सुबह आठ बजे शुरू होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे। अगर 19 जून को किसी मतदान केंद्र पर रुकावट आती है तो उस मतदान केंद्र का चुनाव 21 जून को दोबारा कराया जाएगा।-सत्यवान मान, एसडीएम व रिटर्निंग अधिकारी

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पंजाब पुलिस ने मादक पदार्थों और हथियारों की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया, पांच गिरफ्तार

IND vs ENG: विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और जडेजा पहुंचे लंदन, रोहित शर्मा को 1 दिन की देरी