in

चिराग योजना के तहत निजी स्कूलों में दाखिले के लिए आवेदन का आज अंतिम दिन


ख़बर सुनें

फतेहाबाद। शिक्षा विभाग द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग परिवार के बच्चों को चिराग योजना के तहत एक जुलाई से निजी स्कूलों में दाखिला दिलाए जाने की प्रक्रिया की शुरुआत की गई थी, जिसके आवेदन की अंतिम तिथि सात जुलाई है। योजना के तहत दूसरी से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को निशुल्क दाखिला दिया जाएगा। दाखिला प्रक्रिया आगामी 27 जुलाई तक चलेगी।
चिराग योजना के तहत विद्यार्थी का दाखिला देने होने के बाद नियम 134ए की तर्ज पर शिक्षा विभाग की तरफ से फीस दी जाएगी। अभी तक कक्षा अनुसार फीस को निर्धारित किया जाना है। इस प्रक्रिया के शुरू होने के बाद ही विभाग की तरफ से फीस को लेकर भी जानकारी दे दी जाएगी। दाखिले के लिए ड्रॉ स्कूलों की तरफ से ली जाने वाली परीक्षा के बाद मेरिट सूची के अनुसार निकाला जाएगा।
यह रहेगा दाखिला प्रक्रिया का शेड्यूल
सात जुलाई तक विद्यार्थियों के आवेदन निजी स्कूलों में लिए जाएंगे। 11 जुलाई को निजी स्कूलों में ड्रा निकाला जाएगा। 12 से 21 जुलाई तक नोटिस बोर्ड पर नाम दर्शाए जाएंगे। 22 से 27 जुलाई तक प्रतीक्षा सूची के जरिए दाखिले होंगे।
छात्र ब्लॉक के एक से अधिक विद्यालयों में भी कर सकते हैं आवेदन
निजी मान्यता प्राप्त स्कूलों में एडमिशन के समय चिराग योजना के तहत विद्यार्थियों को अभिभावक की आय परिवार पहचान पत्र की वार्षिक सत्यापित आय से मान्य होगी। जिस मान्यता प्राप्त निजी विद्यालय को अभिभावक व छात्र द्वारा आवेदन पत्र दिया जाएगा, वह विद्यालय अभिभावक व छात्र को अवश्य देगा। सफल छात्र का पिछले सरकारी विद्यालय से स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट लिया जाना अनिवार्य होगा। दाखिले के लिए बच्चे की फैमिली आईडी होना अनिवार्य है। छात्र दाखिले के लिए केवल उसी ब्लॉक के मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूल में पात्र होंगे जिस ब्लॉक में वे वर्तमान में पढ़ रहे हैं। छात्र ब्लॉक के एक से अधिक विद्यालयों में भी दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं।
कोट
चिराग योजना के तहत दाखिला प्रक्रिया को शेड्यूल जारी किया गया है। ऐसे में जो विद्यार्थी निजी स्कूलों में दाखिला लेना चाहते हैं वह आवेदन कर सकते हैं। शिक्षा विभाग ने 134ए की जगह चिराग योजना शुरू की है। इस योजना में एक लाख 80 हजार रुपये से कम आय वाले परिवारों के विद्यार्थियों को दाखिला दिया जाएगा। इस योजना में वही विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं, जिन्होंने पिछले शैक्षणिक वर्ष में अपनी पढ़ाई सरकारी विद्यालयों से पास की हो।
-दयानंद सिहाग, जिला शिक्षा अधिकारी, फतेहाबाद।

फतेहाबाद। शिक्षा विभाग द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग परिवार के बच्चों को चिराग योजना के तहत एक जुलाई से निजी स्कूलों में दाखिला दिलाए जाने की प्रक्रिया की शुरुआत की गई थी, जिसके आवेदन की अंतिम तिथि सात जुलाई है। योजना के तहत दूसरी से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को निशुल्क दाखिला दिया जाएगा। दाखिला प्रक्रिया आगामी 27 जुलाई तक चलेगी।

चिराग योजना के तहत विद्यार्थी का दाखिला देने होने के बाद नियम 134ए की तर्ज पर शिक्षा विभाग की तरफ से फीस दी जाएगी। अभी तक कक्षा अनुसार फीस को निर्धारित किया जाना है। इस प्रक्रिया के शुरू होने के बाद ही विभाग की तरफ से फीस को लेकर भी जानकारी दे दी जाएगी। दाखिले के लिए ड्रॉ स्कूलों की तरफ से ली जाने वाली परीक्षा के बाद मेरिट सूची के अनुसार निकाला जाएगा।

यह रहेगा दाखिला प्रक्रिया का शेड्यूल

सात जुलाई तक विद्यार्थियों के आवेदन निजी स्कूलों में लिए जाएंगे। 11 जुलाई को निजी स्कूलों में ड्रा निकाला जाएगा। 12 से 21 जुलाई तक नोटिस बोर्ड पर नाम दर्शाए जाएंगे। 22 से 27 जुलाई तक प्रतीक्षा सूची के जरिए दाखिले होंगे।

छात्र ब्लॉक के एक से अधिक विद्यालयों में भी कर सकते हैं आवेदन

निजी मान्यता प्राप्त स्कूलों में एडमिशन के समय चिराग योजना के तहत विद्यार्थियों को अभिभावक की आय परिवार पहचान पत्र की वार्षिक सत्यापित आय से मान्य होगी। जिस मान्यता प्राप्त निजी विद्यालय को अभिभावक व छात्र द्वारा आवेदन पत्र दिया जाएगा, वह विद्यालय अभिभावक व छात्र को अवश्य देगा। सफल छात्र का पिछले सरकारी विद्यालय से स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट लिया जाना अनिवार्य होगा। दाखिले के लिए बच्चे की फैमिली आईडी होना अनिवार्य है। छात्र दाखिले के लिए केवल उसी ब्लॉक के मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूल में पात्र होंगे जिस ब्लॉक में वे वर्तमान में पढ़ रहे हैं। छात्र ब्लॉक के एक से अधिक विद्यालयों में भी दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं।

कोट

चिराग योजना के तहत दाखिला प्रक्रिया को शेड्यूल जारी किया गया है। ऐसे में जो विद्यार्थी निजी स्कूलों में दाखिला लेना चाहते हैं वह आवेदन कर सकते हैं। शिक्षा विभाग ने 134ए की जगह चिराग योजना शुरू की है। इस योजना में एक लाख 80 हजार रुपये से कम आय वाले परिवारों के विद्यार्थियों को दाखिला दिया जाएगा। इस योजना में वही विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं, जिन्होंने पिछले शैक्षणिक वर्ष में अपनी पढ़ाई सरकारी विद्यालयों से पास की हो।

-दयानंद सिहाग, जिला शिक्षा अधिकारी, फतेहाबाद।

.


कैथल नप अध्यक्ष का शपथग्रहण 11 जुलाई को

40 एमएम बारिश हुई तो तीन घंटे में होगी पानी की निकासी, अधिक हुई तो आफत