in

घर में घुसकर 2.40 लाख रुपये व आभूषण चोरी कर दुकान में लगाई आग


ख़बर सुनें

सोनीपत। गांव सलीमसर माजरा स्थित किसान के घर में तीन जून की रात घुसे चोर 2 लाख 40 हजार 800 रुपये नकदी और आभूषण चोरी कर ले गए। वारदात के बाद चोरों ने घर के अंदर किसान की कास्मेटिक और कपड़े की दुकान में आग लगा दी जिससे काफी सामान भी जल गया। परिवार के सदस्यों ने आग लगी देख किसान जानकारी दी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने जांच के बाद चोरी और आग लगाकर नुकसान पहुंचाने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
गांव सलीमसर माजरा निवासी धर्म सिंह ने पुलिस को बताया कि वह 3 जून की रात को खेत में सिंचाई करने गया था। घर पर उसकी मां लक्ष्मी, पत्नी सुमन, बेटी निधि व बेटा नितिश मौजूद थे। देर रात करीब पौने 12 बजे उसकी पत्नी सुमन की आंख खुली तो उसने देखा कि उनके घर के परिसर में स्थित कास्मेटिक और कपड़े की दुकान का दरवाजा खुला था और आग लगी हुई थी। उसने शोर मचा दिया जिससे परिवार के सदस्य व पड़ोसी भी उठ गए। उसने उसे भी आग लगने की सूचना दी। इसके बाद वह घर पहुंचा। पड़ोसियों ने दूसरा दरवाजा तोड़ कर काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। उसने घर पहुंचकर जब सामान की जांच की तो दुकान के गल्ले से सात हजार रुपये, कमरे के अंदर बॉक्स से 17 हजार रुपये, अलमारी के अंदर से एक लाख 80 हजार रुपये, सोने की अंगूठी, चांदी की पाजेब, उसके कमीज की जेब से 11500 रुपये, सिलाई मशीन के ऊपर रखी गुल्लक से 12300 रुपये और उसकी पत्नी के पर्स से 13 हजार रुपये चोरी मिले। उन्होंने मामले से पुलिस को अवगत कराया। सदर थाना पुलिस ने जांच के बाद चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया।
पर्स से चाबी निकाल कर दुकान में की चोरी, बाद में लगाई आग
धर्म सिंह का आरोप है कि चोरों ने उसकी पत्नी के पर्स में रखी दुकान की चाबी चोरी कर ली। उसके बाद नकदी चोरी करने के बाद आग लगा दी। इस घटना में दुकान के अंदर सूट, कॉस्मेटिक का सामान, बच्चों के कपड़े आदि जल कर नष्ट हो गए। जिससे काफी नुकसान हुआ।
सूचना के बाद पहुंची सदर थाना पुलिस ने मौके पर फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की टीम को बुलाया। पुलिस ने मौके से सुबूत जुटाए हैं। साथ ही चोरों के बारे में पता लगाने के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं ताकि चोरों को गिरफ्तार किया जा सके।

सोनीपत। गांव सलीमसर माजरा स्थित किसान के घर में तीन जून की रात घुसे चोर 2 लाख 40 हजार 800 रुपये नकदी और आभूषण चोरी कर ले गए। वारदात के बाद चोरों ने घर के अंदर किसान की कास्मेटिक और कपड़े की दुकान में आग लगा दी जिससे काफी सामान भी जल गया। परिवार के सदस्यों ने आग लगी देख किसान जानकारी दी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने जांच के बाद चोरी और आग लगाकर नुकसान पहुंचाने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गांव सलीमसर माजरा निवासी धर्म सिंह ने पुलिस को बताया कि वह 3 जून की रात को खेत में सिंचाई करने गया था। घर पर उसकी मां लक्ष्मी, पत्नी सुमन, बेटी निधि व बेटा नितिश मौजूद थे। देर रात करीब पौने 12 बजे उसकी पत्नी सुमन की आंख खुली तो उसने देखा कि उनके घर के परिसर में स्थित कास्मेटिक और कपड़े की दुकान का दरवाजा खुला था और आग लगी हुई थी। उसने शोर मचा दिया जिससे परिवार के सदस्य व पड़ोसी भी उठ गए। उसने उसे भी आग लगने की सूचना दी। इसके बाद वह घर पहुंचा। पड़ोसियों ने दूसरा दरवाजा तोड़ कर काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। उसने घर पहुंचकर जब सामान की जांच की तो दुकान के गल्ले से सात हजार रुपये, कमरे के अंदर बॉक्स से 17 हजार रुपये, अलमारी के अंदर से एक लाख 80 हजार रुपये, सोने की अंगूठी, चांदी की पाजेब, उसके कमीज की जेब से 11500 रुपये, सिलाई मशीन के ऊपर रखी गुल्लक से 12300 रुपये और उसकी पत्नी के पर्स से 13 हजार रुपये चोरी मिले। उन्होंने मामले से पुलिस को अवगत कराया। सदर थाना पुलिस ने जांच के बाद चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया।

पर्स से चाबी निकाल कर दुकान में की चोरी, बाद में लगाई आग

धर्म सिंह का आरोप है कि चोरों ने उसकी पत्नी के पर्स में रखी दुकान की चाबी चोरी कर ली। उसके बाद नकदी चोरी करने के बाद आग लगा दी। इस घटना में दुकान के अंदर सूट, कॉस्मेटिक का सामान, बच्चों के कपड़े आदि जल कर नष्ट हो गए। जिससे काफी नुकसान हुआ।

सूचना के बाद पहुंची सदर थाना पुलिस ने मौके पर फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की टीम को बुलाया। पुलिस ने मौके से सुबूत जुटाए हैं। साथ ही चोरों के बारे में पता लगाने के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं ताकि चोरों को गिरफ्तार किया जा सके।

.


चार माह में सुधरा लिंगानुपात, सोनीपत में एक हजार पर 901 लड़कियां

कोलकाता पुलिस ने विश्व पर्यावरण दिवस पर 17 टाटा नेक्सॉन ईवी को बेड़े में शामिल किया