गुरुग्राम में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़: तीन शातिर गिरफ्तार, पुलिस हाथ न लगा सके इसलिए सिर्फ बनाते थे इन्हें शिकार


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, गुरुग्राम
Published by: Vikas Kumar
Updated Fri, 17 Jun 2022 08:30 PM IST

ख़बर सुनें

साइबर थाना पुलिस की टीम ने बृहस्पतिवार देर रात को पालम विहार के रिहायशी इलाके में चल रहे फर्जी काल सेंटर का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने कॉल सेंटर के मालिक सहित तीन लोगों को मौके से गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपियों को दो दिन की रिमांड पर लेकर मामले की छानबीन कर रही है। 

साइबर थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि पालम विहार में अवैध रूप से काल सेंटर चलाया जा रहा है। जिस पर सहायक पुलिस आयुक्त साइबर अपराध इंदीवर सिंह की देखरेख में निरीक्षक बिजेंद्र सिंह के साथ टीम ने मौके पर रेड की। जहां से काल सेंटर संचालक मुकेश, समीर और तुषार को गिरफ्तार किया। साइबर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस को मौके से लैपटॉप और तीस हजार रुपये मिले हैं। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि ये लोग विदेश नागरिकों को अलग-अलग कंपनियों के पास फर्जी मेल भेजते थे।
 

पकड़े गए युवक विदेशी नागरिकों को अलग-अलग कंपनियों के नाम से फर्जी ईमेल भेजते थे। जिसमें फर्जी ग्राहक सेवा केंद्र का नंबर होता था। जिस पर फोन करने पर कॉल इस फर्जी कॉल सेंटर में रिसीव होती थी। कॉल आने पर ये खुद को कंपनी का कर्मचारी बताकर तकनीकी सहायता के नाम पर ग्राहक से गिफ्ट वाउचरों के माध्यम से धोखाधड़ी से पैसे ऐंठ लेते थे। 
 

पुलिस गिरफ्त में आए यह तीनों ठग 12वीं पास हैं। तीनों ने मार्च महीने में पालम विहार थाना क्षेत्र में एक फ्लैट 50 हजार रुपये प्रतिमाह पर किराए पर लिया था। यह विदेशी नागरिकों को इसलिए ठगते थे कि वह पुलिस को शिकायत न कर पाएं। यह रुपये वह गिफ्ट वाउचर के जरिए मंगाते थे।

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने लोगों से अपील की है कि वे कस्टमर केयर के लिए गूगल या किसी अन्य सर्च इंजन पर सर्च न करें। कस्टमर केयर का नंबर केवल कंपनी या संस्था की अधिकारिक वेबसाइट से ही प्राप्त करें। कस्टमर केयर से संबंधित प्राप्त होने वाली जानकारी के लिए आए फर्जी ईमेल से सावधान रहें। इन फर्जी ईमेल में दिखाए गए नंबरों पर संपर्क न करें। यदि कोई व्यक्ति कस्टमर केयर सेंटर के नाम पर आपकी निजी या वित्तीय जानकारी जुटाने की कोशिश करता है तो उनको ऐसी कोई जानकारी उपलब्ध न करवाएं और तुरंत साइबर क्राइम ब्रांच या संबंधित थाना में संपर्क करके सूचना दें। 

विस्तार

साइबर थाना पुलिस की टीम ने बृहस्पतिवार देर रात को पालम विहार के रिहायशी इलाके में चल रहे फर्जी काल सेंटर का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने कॉल सेंटर के मालिक सहित तीन लोगों को मौके से गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपियों को दो दिन की रिमांड पर लेकर मामले की छानबीन कर रही है। 

साइबर थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि पालम विहार में अवैध रूप से काल सेंटर चलाया जा रहा है। जिस पर सहायक पुलिस आयुक्त साइबर अपराध इंदीवर सिंह की देखरेख में निरीक्षक बिजेंद्र सिंह के साथ टीम ने मौके पर रेड की। जहां से काल सेंटर संचालक मुकेश, समीर और तुषार को गिरफ्तार किया। साइबर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस को मौके से लैपटॉप और तीस हजार रुपये मिले हैं। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि ये लोग विदेश नागरिकों को अलग-अलग कंपनियों के पास फर्जी मेल भेजते थे।

 

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

नौ कोरोना संक्रमित केस मिले

Sidhu Moose wala murder: कैसे एक छोटे से सुराग से पंजाब पुलिस ने सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की साजिश का किया पर्दाफाश? जानिए अब तक क्‍या-क्‍या हुआ