in

गिरवी रखी जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार कराने पर पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज


ख़बर सुनें

सिरसा। हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन के पास गिरवी रखी 27 कनाल 8 मरले जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाकर हथियाने और धोखाधड़ी करने के आरोप में पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। डबवाली सदर थाना पुलिस ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन डिप्टी जनरल मैनेजर, फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के आरोपी मोहन लाल, मैना देवी, हलका पटवारी चक फरीदकोट, तत्कालीन तहसीलदार पर मामला दर्ज किया है।
पुलिस को दी शिकायत में भिवानी निवासी केएस लांबा ने बताया कि वर्ष 1993 में मोहन लाल गोरीवाला ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन को अपनी 27 कनाल 8 मरला जमीन गिरवी रखी थी। इसके बाद उसने लंबे समय तक किश्तों को अदा नहीं किया। ऐसे में हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन की ओर से उसकी जमीन की नीलामी करवा दी गई। वह जमीन उन्होंने 5 लाख 15 हजार रुपये में ले ली। खरीदी गई जमीन की उन्होंने वर्ष 2008 तक राशि किश्तों में अदा करनी थी। लेकिन उन्होंने वर्ष 2006 में ही पूरी राशि अदा कर दी। आरोप है कि इसी बीच मोहन लाल ने उस जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के बाद अधिकारियों से मिली भगत कर जमीन की एनओसी निकलवा ली और जमीन को हथिया लिया। मामले की जानकारी उन्हें मिली तो उन्होंने इस संबंध में कॉर्पोरेशन अधिकारियों से बातचीत की। लेकिन उन्हें कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं मिला। जिसके बाद उन्होंने मामले की शिकायत सीएम विंडो में भी लगाई है। लेकिन इसके बाद भी संबंधित अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। उन्होंने अब पुलिस अधीक्षक और डबवाली सदर थाना प्रभारी को मामले की शिकायत दी है। शिकायत के आधार पर डबवाली सदर थाना पुलिस ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन डिप्टी जनरल मैनेजर, फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के आरोप में मोहन लाल, मैना देवी, हलका पटवारी चक फरीदकोट, तत्कालीन तहसीलदार पर मामला दर्ज किया है।

सिरसा। हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन के पास गिरवी रखी 27 कनाल 8 मरले जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाकर हथियाने और धोखाधड़ी करने के आरोप में पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। डबवाली सदर थाना पुलिस ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन डिप्टी जनरल मैनेजर, फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के आरोपी मोहन लाल, मैना देवी, हलका पटवारी चक फरीदकोट, तत्कालीन तहसीलदार पर मामला दर्ज किया है।

पुलिस को दी शिकायत में भिवानी निवासी केएस लांबा ने बताया कि वर्ष 1993 में मोहन लाल गोरीवाला ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन को अपनी 27 कनाल 8 मरला जमीन गिरवी रखी थी। इसके बाद उसने लंबे समय तक किश्तों को अदा नहीं किया। ऐसे में हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन की ओर से उसकी जमीन की नीलामी करवा दी गई। वह जमीन उन्होंने 5 लाख 15 हजार रुपये में ले ली। खरीदी गई जमीन की उन्होंने वर्ष 2008 तक राशि किश्तों में अदा करनी थी। लेकिन उन्होंने वर्ष 2006 में ही पूरी राशि अदा कर दी। आरोप है कि इसी बीच मोहन लाल ने उस जमीन के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के बाद अधिकारियों से मिली भगत कर जमीन की एनओसी निकलवा ली और जमीन को हथिया लिया। मामले की जानकारी उन्हें मिली तो उन्होंने इस संबंध में कॉर्पोरेशन अधिकारियों से बातचीत की। लेकिन उन्हें कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं मिला। जिसके बाद उन्होंने मामले की शिकायत सीएम विंडो में भी लगाई है। लेकिन इसके बाद भी संबंधित अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। उन्होंने अब पुलिस अधीक्षक और डबवाली सदर थाना प्रभारी को मामले की शिकायत दी है। शिकायत के आधार पर डबवाली सदर थाना पुलिस ने हरियाणा फाइनेंशियल कॉर्पोरेशन डिप्टी जनरल मैनेजर, फर्जी दस्तावेज तैयार करवाने के आरोप में मोहन लाल, मैना देवी, हलका पटवारी चक फरीदकोट, तत्कालीन तहसीलदार पर मामला दर्ज किया है।

.


Sidhu Moosewala: सिद्धू मूसेवाला को श्रद्धांजलि देने मूसा पहुंचे राहुल गांधी, परिवार को दी सांत्वना

पंजाब : कांग्रेस ने पूर्व मंत्री धर्मसोत की गिरफ्तारी को ‘बदले की राजनीति’ बताया