कोरोना : सात दिन में मिले 107 संक्रमित, पांच टीमें सैंपलिंग में जुटी


ख़बर सुनें

हिसार। जिले में कोरोना के केस एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। पिछले 7 दिनों में कोरोना के 107 नए केस आ चुके हैं। शुक्रवार को 11 नए कोरोना संक्रमित मिले। जिले में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 83 हो गई है। सभी मरीजों को सात दिन के लिए होम आइसोलेट किया गया है। हालांकि किसी को गंभीर लक्षण नहीं हैं। मामूली सर्दी-जुखाम के ही लक्षण हैं। वहीं, बढ़ रहे संक्रमण से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। नागरिक अस्पताल की दो और मलेरिया विभाग की तीन टीमें सैंपल ले रही हैं। टीमों ने बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन व नागरिक अस्पताल में सैंपलिंग बढ़ाई दी है। इसके अलावा जिले की सीएचसी और पीएचसी पर भी सैंपलिंग के आदेश जारी दिए हैं।
डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सुभाष खतरेजा ने बताया कि रिकवरी रेट 97.98 प्रतिशत रहा। उन्होंने बताया कि जिले में 9 लाख 33 हजार 804 लोगों की जांच की जा चुकी है, जिसमें संक्रमण के कुल 62331 मामले सामने आ चुके हैं। अब तक कुल 61069 मरीज कोरोना से रिकवर हो चुके हैं। कोविड-19 की पहली लहर में 327, दूसरी लहर में 814 और तीसरी लहर में 38 संक्रमित मरीजों की मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण फैल रहा है। अभी तक घबराने की कोई बात नहीं है। जिन मरीजों को कोरोना पुष्टि हो रही सामान्य लक्षण दिखाई दे रहे हैं। जिस कारण मरीजों को होमआइसोलेट किया जा रहा है। अब जो केस आ रहे हैं उनमें किसी भी मरीज को अस्पताल में भर्ती करने की नौबत नहीं आई है। सभी का घर पर उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि जिन मरीजों को कोरोना की पुष्टि हुई है उनमें बुखार, खांसी और जुकाम के लक्षण मिल रहे हैं। उन्हें घर पर ही रहने की सलाह दी जा रही है। अगर, किसी प्रकार की कोई दिक्कत होती है तो तुरंत चिकित्सक को बताए।
सीएमओ डॉ. रत्ना भारती का कहना है कि केस बढ़ रहे हैं। ऐसे में एहतियातन के तौर पर मास्क पहनाना जरूरी है। अगर किसी कोरोना मरीज के संपर्क में आते हैं तो अपने सैंपल जरूर करवाएं। कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है।

हिसार। जिले में कोरोना के केस एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। पिछले 7 दिनों में कोरोना के 107 नए केस आ चुके हैं। शुक्रवार को 11 नए कोरोना संक्रमित मिले। जिले में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 83 हो गई है। सभी मरीजों को सात दिन के लिए होम आइसोलेट किया गया है। हालांकि किसी को गंभीर लक्षण नहीं हैं। मामूली सर्दी-जुखाम के ही लक्षण हैं। वहीं, बढ़ रहे संक्रमण से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। नागरिक अस्पताल की दो और मलेरिया विभाग की तीन टीमें सैंपल ले रही हैं। टीमों ने बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन व नागरिक अस्पताल में सैंपलिंग बढ़ाई दी है। इसके अलावा जिले की सीएचसी और पीएचसी पर भी सैंपलिंग के आदेश जारी दिए हैं।

डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सुभाष खतरेजा ने बताया कि रिकवरी रेट 97.98 प्रतिशत रहा। उन्होंने बताया कि जिले में 9 लाख 33 हजार 804 लोगों की जांच की जा चुकी है, जिसमें संक्रमण के कुल 62331 मामले सामने आ चुके हैं। अब तक कुल 61069 मरीज कोरोना से रिकवर हो चुके हैं। कोविड-19 की पहली लहर में 327, दूसरी लहर में 814 और तीसरी लहर में 38 संक्रमित मरीजों की मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण फैल रहा है। अभी तक घबराने की कोई बात नहीं है। जिन मरीजों को कोरोना पुष्टि हो रही सामान्य लक्षण दिखाई दे रहे हैं। जिस कारण मरीजों को होमआइसोलेट किया जा रहा है। अब जो केस आ रहे हैं उनमें किसी भी मरीज को अस्पताल में भर्ती करने की नौबत नहीं आई है। सभी का घर पर उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि जिन मरीजों को कोरोना की पुष्टि हुई है उनमें बुखार, खांसी और जुकाम के लक्षण मिल रहे हैं। उन्हें घर पर ही रहने की सलाह दी जा रही है। अगर, किसी प्रकार की कोई दिक्कत होती है तो तुरंत चिकित्सक को बताए।

सीएमओ डॉ. रत्ना भारती का कहना है कि केस बढ़ रहे हैं। ऐसे में एहतियातन के तौर पर मास्क पहनाना जरूरी है। अगर किसी कोरोना मरीज के संपर्क में आते हैं तो अपने सैंपल जरूर करवाएं। कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

30 जून तक सभी ड्रेन, बरसाती नालों की सफाई हो

रंजिशन ई-रिक्शा चालक का रास्ता रोककर की मारपीट