कोई डॉक्टर बन करेगी सेवा तो कोई शिक्षिका बन दिखाएगी राह


ख़बर सुनें

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से जारी किए 12वीं कक्षा के परिणाम में जिला स्तर पर तीनों संकाय की सूची में आठ बेटियों ने जगह बनाई है। इसमें राजकीय स्कूलों से दो बेटियां तथा प्राइवेट स्कूलों से छह बेटियां शामिल हैं। इनमें रावमावि कापड़ीवास से सपना को प्रथम, एसडी सीनियर सेकेंडरी स्कूल करावरा मानकपुर से तान्या को द्वितीय स्थान मिला है। इसी प्रकार एसकेजी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाकली से हिमश्वेता व निधि, रावमावि बोड़िया कमालपुर से हिमांशी, ज्ञानदीप विद्या मंदिर दुल्हेड़ा खुर्द से पिकी तथा जीवन ज्योति सीनियर सेकेंडरी स्कूल मंदौला से नेहा व एसकेजी स्कूल भाकली की छात्रा अन्नु को तृतीय स्थान मिला है। टॉप रहने वाली बेटियों में से कोई चिकित्सक, कोई शिक्षक तो कोई सीए बनना चाहती हैं।
सपना का शिक्षक बनना है सपना
जिला स्तर पर पहले स्थान पर रहने वाली राजकीय स्कूल कापड़ीवास की नान मेडिकल संकाय की छात्रा सपना का सपना शिक्षक बनने का है। सपना ने 500 में से 487 अंक हासिल कर विद्यालय का नाम रोशन किया है। उनका कहना है कि टाइम टेबल बनाने से पढ़ाई करने में आसानी होती है तथा सभी विषयों की साथ-साथ तैयारी हो जाती है।
सीए बनना चाहती हैं तान्या
जिला स्तर पर दूसरा स्थान हासिल करने वाली एसडी स्कूल करावरा मानकपुर स्कूल की छात्रा तान्या ने कामर्स संकाय में 486 अंक हासिल करके विद्यालय का नाम रोशन किया है। तान्या का सपना सीए बनने का है।
चिकित्सक बनना चाहती हैं हिमश्वेता
एसकेजी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाकली की छात्रा हिमश्वेता ने मेडिकल संकाय में 465 अंक लेकर तीसरा स्थन हासिल किया है। हिमश्वेता का सपना चिकित्सक बनने का है। इसी प्रकार तीसरे स्थान पर रही हिमांशी भौतिक विज्ञान संकाय की शिक्षक बनना चाहती हैं। वहीं निधि भूगोल की शिक्षक, रिंकी कामर्स और नेहा भूगोल तथा अन्नु विज्ञान की शिक्षक बनना चाहती हैं।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से जारी किए 12वीं कक्षा के परिणाम में जिला स्तर पर तीनों संकाय की सूची में आठ बेटियों ने जगह बनाई है। इसमें राजकीय स्कूलों से दो बेटियां तथा प्राइवेट स्कूलों से छह बेटियां शामिल हैं। इनमें रावमावि कापड़ीवास से सपना को प्रथम, एसडी सीनियर सेकेंडरी स्कूल करावरा मानकपुर से तान्या को द्वितीय स्थान मिला है। इसी प्रकार एसकेजी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाकली से हिमश्वेता व निधि, रावमावि बोड़िया कमालपुर से हिमांशी, ज्ञानदीप विद्या मंदिर दुल्हेड़ा खुर्द से पिकी तथा जीवन ज्योति सीनियर सेकेंडरी स्कूल मंदौला से नेहा व एसकेजी स्कूल भाकली की छात्रा अन्नु को तृतीय स्थान मिला है। टॉप रहने वाली बेटियों में से कोई चिकित्सक, कोई शिक्षक तो कोई सीए बनना चाहती हैं।

सपना का शिक्षक बनना है सपना

जिला स्तर पर पहले स्थान पर रहने वाली राजकीय स्कूल कापड़ीवास की नान मेडिकल संकाय की छात्रा सपना का सपना शिक्षक बनने का है। सपना ने 500 में से 487 अंक हासिल कर विद्यालय का नाम रोशन किया है। उनका कहना है कि टाइम टेबल बनाने से पढ़ाई करने में आसानी होती है तथा सभी विषयों की साथ-साथ तैयारी हो जाती है।

सीए बनना चाहती हैं तान्या

जिला स्तर पर दूसरा स्थान हासिल करने वाली एसडी स्कूल करावरा मानकपुर स्कूल की छात्रा तान्या ने कामर्स संकाय में 486 अंक हासिल करके विद्यालय का नाम रोशन किया है। तान्या का सपना सीए बनने का है।

चिकित्सक बनना चाहती हैं हिमश्वेता

एसकेजी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाकली की छात्रा हिमश्वेता ने मेडिकल संकाय में 465 अंक लेकर तीसरा स्थन हासिल किया है। हिमश्वेता का सपना चिकित्सक बनने का है। इसी प्रकार तीसरे स्थान पर रही हिमांशी भौतिक विज्ञान संकाय की शिक्षक बनना चाहती हैं। वहीं निधि भूगोल की शिक्षक, रिंकी कामर्स और नेहा भूगोल तथा अन्नु विज्ञान की शिक्षक बनना चाहती हैं।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

आंतरिक खतरों से भी नागरिकों को सुरक्षा देने में बेहद अहम साबित होगी अग्निपथ-अग्निवीर योजना

आज से अगले 8 दिनों तक बरसेंगे मेघा, भीषण गर्मी व लू से मिलेगी मुक्ति