in

कुलदीप बिश्नोई को धमकी का मामला: बाड़मेर से आरोपी को किया गया गिरफ्तार, विधायक ने सीएम और गृह मंत्री को कहा धन्यवाद


ख़बर सुनें

हरियाणा के आदमपुर से कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई को मंगलवार को 14 मिनट में व्हाट्सएप पर तीन संदेश भेजकर जान से मारने की धमकी दी गई। आरोपी युवक को राजस्थान के बाड़मेर से गिरफ्तार करने की सूचना है। आरोपी युवक की पहचान कंवरा राम के रूप में हुई है। उधर, इस कार्रवाई पर विधायक कुलदीप बिश्नोई ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और गृहमंत्री अनिल विज का धन्यवाद किया।

दरअसल, मंगलवार दोपहरबाद करीब 3:10 बजे, 3:11 बजे और 3:24 बजे कुलदीप बिश्नोई को संदेश भेज गए। संदेश में लिखा कि कुलदीप बिश्नोई सुधर जाओ, समाज से माफी मांग लो, समाज को नोचना बंद करो।  जिस नंबर से धमकी भरे संदेश मिले, उस नंबर पर कॉल किया तो फोन उठाने वाले ने खुद का नाम कंवराराम कड़वा बताया। उसने कहा कि उसने कोई संदेश नहीं भेजे, न ही कोई धमकी दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्जकर जांच की। 

शिकायत के अनुसार 3 बजकर 10 मिनट पर भेजे गए संदेश में आरोपी ने लिखा कि अरे कुलदीप तेरी वजह से पूरे समाज की बदनामी हो रही है। समय रहते सुधर जा वरना मूसेवाले के साथ जो हुआ वही तेरे साथ होगा। 3 बजकर 11 मिनट भेज गए संदेश में लिखा है कि बिश्नोई समाज में जन्म लेकर इस तरह से इस पीरजादे गैंग का मुख्य सरगना बना हुआ है।

तुझे क्या लगता है। तू बच जाएगा, समाज के साथ अन्याय करके कुत्ते की मौत मारेंगे, ध्यान रखना। इसके बाद 3 बजकर 24 मिनट पर भेजे गए संदेश में लिखा गया कि अरे कुलदीप, कब तक समाज को नोचता रहेगा, समाज से माफी मांग और समाज को नोचना बंद कर। 

15 फरवरी को मांगी थी दो करोड़ रुपये की रंगदारी
इससे पहले 15 फरवरी को भी आदमपुर विधायक कुलदीप बिश्नोई को व्हाट्सएप संदेश भेजकर दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। पैसे न देने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी गई थी। उस दिन मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे उनके व्हाटसएप नंबर पर एक विदेशी नंबर से संदेश भेजकर दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। इस मामले में आदमपुर पुलिस ने आरोपी राजस्थान निवासी अशोक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

विस्तार

हरियाणा के आदमपुर से कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई को मंगलवार को 14 मिनट में व्हाट्सएप पर तीन संदेश भेजकर जान से मारने की धमकी दी गई। आरोपी युवक को राजस्थान के बाड़मेर से गिरफ्तार करने की सूचना है। आरोपी युवक की पहचान कंवरा राम के रूप में हुई है। उधर, इस कार्रवाई पर विधायक कुलदीप बिश्नोई ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और गृहमंत्री अनिल विज का धन्यवाद किया।

दरअसल, मंगलवार दोपहरबाद करीब 3:10 बजे, 3:11 बजे और 3:24 बजे कुलदीप बिश्नोई को संदेश भेज गए। संदेश में लिखा कि कुलदीप बिश्नोई सुधर जाओ, समाज से माफी मांग लो, समाज को नोचना बंद करो।  जिस नंबर से धमकी भरे संदेश मिले, उस नंबर पर कॉल किया तो फोन उठाने वाले ने खुद का नाम कंवराराम कड़वा बताया। उसने कहा कि उसने कोई संदेश नहीं भेजे, न ही कोई धमकी दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्जकर जांच की। 

शिकायत के अनुसार 3 बजकर 10 मिनट पर भेजे गए संदेश में आरोपी ने लिखा कि अरे कुलदीप तेरी वजह से पूरे समाज की बदनामी हो रही है। समय रहते सुधर जा वरना मूसेवाले के साथ जो हुआ वही तेरे साथ होगा। 3 बजकर 11 मिनट भेज गए संदेश में लिखा है कि बिश्नोई समाज में जन्म लेकर इस तरह से इस पीरजादे गैंग का मुख्य सरगना बना हुआ है।

तुझे क्या लगता है। तू बच जाएगा, समाज के साथ अन्याय करके कुत्ते की मौत मारेंगे, ध्यान रखना। इसके बाद 3 बजकर 24 मिनट पर भेजे गए संदेश में लिखा गया कि अरे कुलदीप, कब तक समाज को नोचता रहेगा, समाज से माफी मांग और समाज को नोचना बंद कर। 

15 फरवरी को मांगी थी दो करोड़ रुपये की रंगदारी

इससे पहले 15 फरवरी को भी आदमपुर विधायक कुलदीप बिश्नोई को व्हाट्सएप संदेश भेजकर दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। पैसे न देने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी गई थी। उस दिन मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे उनके व्हाटसएप नंबर पर एक विदेशी नंबर से संदेश भेजकर दो करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई थी। इस मामले में आदमपुर पुलिस ने आरोपी राजस्थान निवासी अशोक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

.


कांग्रेस में सेंधमारी के बिना जीत असंभव, फिर क्या करिश्मा दिखाएंगे सुभाष चंद्रा?

सिद्धू मूसेवाला की अंतिम अरदास: बड़ी संख्या में जुटे प्रशंसक, सुरक्षा के कड़े इंतजाम