कार की टक्कर से घरेलू सहायिका की मौत


ख़बर सुनें

खरखौदा। गोपालपुर मार्ग से प्रताप कॉलोनी में सब्जी लेकर लौट रही घरेलू सहायिका की सेवानिवृत्त डीएसपी के बेटे की कार से हुई टक्कर में मौत हो गई। महिला के भाई ने पड़ोस में रहने वाली सेवानिवृत्त डीएसपी अनूप व उसके दोनों बेटों पर रंजिशन बहन की हत्या करने का आरोप लगाया है। इस पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। महिला के शव का बुधवार को पीजीआई, रोहतक में पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।
गांव रोहणा निवासी फिलहाल प्रताप कॉलोनी निवासी यशपाल ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन अनीता (48) अपने परिवार के साथ प्रताप कॉलोनी में ही उनके पड़ोस में रह रही थी। कुछ समय पहले उनके जीजा की मौत हो गई थी। इसके बाद उसकी बहन घरों में काम कर अपने बच्चों का पालन पोषण कर रही थी। यशपाल ने पुलिस को बताया कि कुछ दिन पहले ही उसकी बहन के साथ किसी बात को लेकर उनके पड़ोसी अनूप ने झगड़ा किया था। इस पर अनूप व उसके दोनों बेटों बिट्टू व सीटू ने उसकी बहन की पिटाई कर दी थी, लेकिन जब उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस को करनी चाही तो लोगों ने बीच बचाव कर समझौता करवा दिया था। यशपाल का कहना है कि इस घटना के बाद से अनूप का परिवार रंजिश रखे हुए था और चार-पांच दिन बाद फिर से उसकी बहन के साथ झगड़ा करते हुए गाली-गलौज की थी। साथ ही उन्होंने धमकी दी थी कि मौका मिलने पर उसकी बहन को जान से मार देंगे। सोमवार को जब उसकी बहन अनीता सब्जी मंडी से सब्जी लेकर आ रही थी तो सीटू ने अपनी कार से उसकी बहन को सीधी टक्कर मार दी और कार लेकर भागने लगा। इस दौरान कार पलट गई थी। घायल अनीता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया, जहां से उसे पीजीआई, रोहतक रेफर किया गया था। लेकिन चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। यशपाल की शिकायत पर पुलिस ने अनूप व उनके पुत्रों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। बुधवार को अनीता के शव का पीजीआई, रोहतक में पोस्टमार्टम होगा।
निराधार हैं आरोप
हम पर निराधार आरोप लगाए गए हैं। उनकी उस परिवार के साथ कभी कोई कहासुनी तक नहीं हुई, किसी के बहकावे में आकर हत्या के आरोप लगाए जा रहे हैं, जबकि यह एक हादसा है, जिसमें अनीता की मौत हुई। इसका हमें भी दुख है।
-अनूप दहिया, सेवानिवृत्त डीएसपी

खरखौदा। गोपालपुर मार्ग से प्रताप कॉलोनी में सब्जी लेकर लौट रही घरेलू सहायिका की सेवानिवृत्त डीएसपी के बेटे की कार से हुई टक्कर में मौत हो गई। महिला के भाई ने पड़ोस में रहने वाली सेवानिवृत्त डीएसपी अनूप व उसके दोनों बेटों पर रंजिशन बहन की हत्या करने का आरोप लगाया है। इस पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। महिला के शव का बुधवार को पीजीआई, रोहतक में पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

गांव रोहणा निवासी फिलहाल प्रताप कॉलोनी निवासी यशपाल ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन अनीता (48) अपने परिवार के साथ प्रताप कॉलोनी में ही उनके पड़ोस में रह रही थी। कुछ समय पहले उनके जीजा की मौत हो गई थी। इसके बाद उसकी बहन घरों में काम कर अपने बच्चों का पालन पोषण कर रही थी। यशपाल ने पुलिस को बताया कि कुछ दिन पहले ही उसकी बहन के साथ किसी बात को लेकर उनके पड़ोसी अनूप ने झगड़ा किया था। इस पर अनूप व उसके दोनों बेटों बिट्टू व सीटू ने उसकी बहन की पिटाई कर दी थी, लेकिन जब उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस को करनी चाही तो लोगों ने बीच बचाव कर समझौता करवा दिया था। यशपाल का कहना है कि इस घटना के बाद से अनूप का परिवार रंजिश रखे हुए था और चार-पांच दिन बाद फिर से उसकी बहन के साथ झगड़ा करते हुए गाली-गलौज की थी। साथ ही उन्होंने धमकी दी थी कि मौका मिलने पर उसकी बहन को जान से मार देंगे। सोमवार को जब उसकी बहन अनीता सब्जी मंडी से सब्जी लेकर आ रही थी तो सीटू ने अपनी कार से उसकी बहन को सीधी टक्कर मार दी और कार लेकर भागने लगा। इस दौरान कार पलट गई थी। घायल अनीता को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया, जहां से उसे पीजीआई, रोहतक रेफर किया गया था। लेकिन चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। यशपाल की शिकायत पर पुलिस ने अनूप व उनके पुत्रों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। बुधवार को अनीता के शव का पीजीआई, रोहतक में पोस्टमार्टम होगा।

निराधार हैं आरोप

हम पर निराधार आरोप लगाए गए हैं। उनकी उस परिवार के साथ कभी कोई कहासुनी तक नहीं हुई, किसी के बहकावे में आकर हत्या के आरोप लगाए जा रहे हैं, जबकि यह एक हादसा है, जिसमें अनीता की मौत हुई। इसका हमें भी दुख है।

-अनूप दहिया, सेवानिवृत्त डीएसपी

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

कोरोना के एक साथ पांच केस आए सामने

कॉलेज के सामने नहीं रुकतीं बसें, पढ़ाई के लिए तीन किमी. पैदल चलने को बेबस बेटियां