in

ईपीएफओ जल्द ही ब्याज देगा: मिस्ड कॉल, एसएमएस, उमंग के माध्यम से पीएफ बैलेंस की जांच करें


नई दिल्ली: कर्मचारी भविष्य निधि, जिसे कभी-कभी पीएफ या ईपीएफ के रूप में जाना जाता है, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के सदस्यों के लिए एक बचत खाता है। हर महीने, प्रत्येक कर्मचारी और नियोक्ता अपनी मूल आय का 12% इन पीएफ खातों में एक निश्चित योगदान के रूप में योगदान करते हैं। उदाहरण के लिए, ईपीएफओ हर साल पीएफ ब्याज दर की घोषणा करता है। कर्मचारियों के पास अपने ईपीएफ खातों की शेष राशि की जांच के लिए चार विकल्प हैं।

एसएमएस के जरिए पीएफ बैलेंस

एसएमएस के जरिए अपना पीएफ बैलेंस चेक करने के लिए “EPFOHO UAN ENG” लिखकर 7738299899 नंबर पर भेजें। आखिरी पीएफ योगदान और कुल पीएफ बैलेंस आपको एसएमएस के जरिए भेजा जाएगा। यह विधि आपको अपना यूएएन प्रदान किए बिना या यदि आपके पास इंटरनेट तक पहुंच नहीं है, तो आप अपने पीएफ बैलेंस की जांच कर सकते हैं। हालांकि, आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि एसएमएस केवल पंजीकृत फोन नंबर से ही भेजा जाता है।

ईपीएफओ वेबसाइट के माध्यम से पीएफ बैलेंस

आपके पास ईपीएफओ वेबसाइट के जरिए बैलेंस चेक करने का भी विकल्प है।

  • ईपीएफओ की वेबसाइट पर कर्मचारी अनुभाग में जाएं और ‘सदस्य पासबुक’ पर क्लिक करें।
  • लॉग इन करने के लिए अपने यूएएन और पासवर्ड का इस्तेमाल करें।
  • इसके बाद पीएफ की पासबुक दिखाई देगी, जिसमें पीएफ का ब्याज भी शामिल होगा।

यदि आपका यूएएन एक से अधिक पीएफ खाते से जुड़ा है, तो आप प्रत्येक खाते के विवरण तक पहुंच सकेंगे। बैलेंस चेक करने के लिए आपको उपयुक्त मेंबर आईडी पर क्लिक करना होगा।

उमंग ऐप के जरिए पीएफ बैलेंस

अपना पीएफ बैलेंस चेक करने के लिए बस प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से उमंग ऐप (यूनिफाइड मोबाइल एप्लिकेशन फॉर न्यू-एज गवर्नेंस) डाउनलोड करें। आप ईपीएफ जानकारी जैसे दावा स्थिति और अपने ग्राहक को जानें (केवाईसी) स्थिति भी देख सकते हैं।

मिस्ड कॉल के जरिए पीएफ बैलेंस

मिस्ड कॉल तकनीक का उपयोग करके अपना बैलेंस चेक करने के लिए, अपने पंजीकृत फोन नंबर से 011-22901406 डायल करें और एक संदेश छोड़ें। यह विधि मुफ़्त है और इसका उपयोग स्मार्टफोन और गैर-स्मार्टफोन दोनों उपयोगकर्ताओं द्वारा किया जा सकता है। उपयोगकर्ताओं को अपना यूएएन प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है।

अब आपको बस अपने फोन नंबर को अपने बैंक खाते, आधार नंबर और पैन से लिंक करना है।

.


इस प्रकार से रशीद खान ‘स्नेक’ की तरह टाइप करेंगे,

एवरेस्ट पर चढ़ने का फर्जी दावा करने के कारण लगा था बैन, 6 साल बाद सबसे ऊंची चोटी फतह कर धोया दाग