in

अकाली दल ने मजीठिया की जान को खतरा होने का दावा किया, एडीजीपी सिद्धू पर गंभीर आरोप लगाए


चंडीगढ़, सात जून (भाषा) शिरोमणि अकाली दल ने मंगलवार को दावा किया कि जेल में बंद पार्टी नेता बिक्रम सिंह मजीठिया की जान को खतरा है। साथ ही आरोप लगाया कि अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) हरप्रीत सिंह सिद्धू के इशारे पर मजीठिया को एक ‘‘झूठे’’ मामले में फंसाए जाने की आशंका है, जिनके पास जेल का अतिरिक्त प्रभार है।

पूर्व मंत्री की पत्नी और शिअद विधायक गनीव कौर ने इस संबंध में राज्य के पुलिस प्रमुख को पत्र लिखकर इसकी प्रति मुख्यमंत्री भगवंत मान को भी भेजी है।

जान को खतरे का हवाला देते हुए अकाली नेता महेशइंदर सिंह ग्रेवाल और दलजीत सिंह चीमा ने सरकार से मांग की कि नशा-रोधी विशेष कार्यबल के प्रमुख सिद्धू को जेल के अतिरिक्त प्रभार से तुरंत हटाया जाए।

मजीठिया मादक पदार्थ के एक मामले में पटियाला जेल में बंद हैं।

शिअद नेताओं ने दावा किया कि मजीठिया के परिवार के सदस्यों को इस बात की आशंका है कि आईपीएस अधिकारी पूर्व मंत्री को एक अन्य मामले में फंसाने के लिए अपने पद का दुरुपयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि मजीठिया और सिद्धू के परिवारों के बीच दुश्मनी थी और अब अधिकारी उसका बदला लेना चाहते हैं।

.


सेना की पहली महिला लड़ाकू विमान चालक कैप्टन बराक ने चौटाला से की मुलाकात

राफेल नडाल को फ्रेंच ओपन जीतने के बाद रोजर फेडरर ने दी बधाई, खुद बताई पूरी बात